होम क्या कैसे ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं?

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं?

आजकल ज्यादातर नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाएं जिससे उनकी ऑनलाइन कमाई हो पाएं, इसे लेकर बहुत ही परेशान होते हैं। आज हम आपके लिए अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं इस विषय पर अपने अनुभव शेयर कर रहे हैं, जिससे आप भी अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक को बढ़ा सकते हैं।

ब्लॉगिंग में सबसे महत्वपूर्ण बात यह हैं की आप हमेशा नया सीखने और उसे अपने ब्लॉग में प्रयोग करने का अभ्यास करते रहिए क्योंकि जैसे ही आप कुछ नया एक्सपेरिमेंट करते हैं तो वह आपको और सफल बनाने में महत्वपूर्ण हिस्सेदार होता हैं।

आपको ब्लॉगिंग की जानकारी को सिर्फ पढ़ने की जगह उसे ब्लॉग पर करके भी देखना चाहिए क्योंकि हमेशा कोशिश करते रहना आपकी सफलता का रास्ता होता हैं। हम आपको ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं, इस पर कुछ टिप्स साझा कर रहें हैं जिनसे आपको अपने नए और पुराने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने में आसानी होगी।

नए और पुराने ब्लॉग पर ट्रैफिक को बढ़ाने के तरीके

हमनें ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ाने के उपाय को 2 हिस्सें में बताया हैं जिससे जो नए और पुराने ब्लॉगर हैं उन्हें अपने ब्लॉग के व्यूज को कैसे बढ़ाएं में सहायता मिल पाये।

नए ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं?

ब्लॉग की थीम और डिज़ाइन पर ध्यान दें– यदि आपने अपना नया ब्लॉग शुरू किया हैं और आप ये सोच रहे कि ब्लॉग पर ज्यादा ट्रैफिक कैसे लाएं तो आपको सबसे पहले अपने ब्लॉग कि थीम को प्रोफेशनल तरीके से डिज़ाइन करना होगा।

अगर आप अपने ब्लॉग को सही तरीके से डिज़ाइन नहीं करते हैं तो इससे विजिटर आपकी वेबसाइट कि डिज़ाइन न पसंद आने पर तुरंत ब्लॉग को छोड़ कर जायेंगे। इससे आपके ब्लॉग की बाउंस रेट बढ़ेगी जो ब्लॉग की गूगल में रैंकिंग को खराब करती हैं।

कीवर्ड रिसर्च करें और 1 महीने का कंटेंट तैयार रखें– आपने जिस केटेगरी को टारगेट करते हुए अपना ब्लॉग बनाया हैं उस पर आपको सबसे पहले किन किन टॉपिक्स पर लिखना हैं उन पर आपको कीवर्ड रिसर्च करनी चाहिए।

साथ ही आपको 1 महीने के कंटेंट की लिस्ट ब्लॉग को लाइव करने से पहले तैयार कर लेनी चाहिए और आप अपनी इच्छा अनुसार प्रति दिन शुरू में 2-3 पोस्ट अपलोड कर सकते हैं और अगले महीने के लिए कंटेंट की लिस्ट तैयार कर पाएंगे।

कीवर्ड रिसर्च क्या हैं और कैसे करें?

आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक और रीडर्स कैसे लाएं इस बात को लेकर इंटरनेट पर सर्च कर रहें हैं तो आपको सबसे पहले कीवर्ड रिसर्च पर ध्यान देना चाहिए।

कीवर्ड एक तरह के प्रश्न होते हैं जो लोग सर्च कर रहें और उसके बारे में जानना चाहते हैं तो आपको अपने केटेगरी से संबंधित टॉपिक्स के लिए कीवर्ड रिसर्च करनी चाहिए। आप कीवर्ड रिसर्च करने के लिए गूगल कीवर्ड प्लानर, कीवर्ड एवरीव्हेर टूल का भी उपयोग कर सकते हैं ये दोनों ही टूल फ्री हैं।

आप नए ब्लॉग के कम कम्पटीशन वाले कीवर्ड्स का चयन करें और उससे संबंधित प्रश्न को भी अपने लिस्ट में शामिल करें जिससे की आपकी ब्लॉग की सर्चिंग सबसे पहले आए इससे आपका कंटेंट भी हाई क्वालिटी का माना जायेगा।

इसका एक उदाहरण लेते हैं यदि आपको “हम पतला कैसे हो” इस पर कंटेंट लिखना हैं तो आप अपने आर्टिकल में ये भी शामिल कीजिए की “हमारा वजन कम कितने दिनों में हो सकता हैं “, “पतला होने के लिए सही डाइट क्या हैं “, “हम पतले कितने दिनों में हो सकते हैं” आदि।

आप कोई भी टॉपिक को लिखने के लिए गूगल सर्च में अपने टॉपिक को सर्च क्वेरी में डालें और जो नीचे सुझाव आते हैं उनको अपने कंटेंट में शामिल कीजिए। इससे आपको मुख्य कीवर्ड के अलावा इससे रिलेटेड टॉपिक्स से भी ट्रैफिक आएगा।

अपने ब्लॉग को सर्च इंजन में सबमिट करें– जब आप अपने ब्लॉग को तैयार कर लेते हैं तो आप अपने ब्लॉग को गूगल सर्च इंजन में सबमिट कीजिए, गूगल में सबमिट कैसे करें इसके लिए आर्टिकल इंटरनेट पर देख सकते हैं।

पोस्ट के लिए गूगल ट्रेंड का उपयोग कर सकते हैं– यदि आपका ब्लॉग नया हैं तो शुरुआत में आप गूगल ट्रेंड्स के टॉपिक्स पर अपने कंटेंट को तैयार कर सकते हैं। इससे आपको प्रतिदिन नए नए टॉपिक्स के बारे में पता चलेगा और ऐसे टॉपिक्स पर कंटेंट लिखने पर आपके ब्लॉग पर भी ट्रैफिक आएगा।

सबसे पहले आप गूगल में Google Trends लिखें और उस लिंक पर जाएँ। वहां आपको दायीं साइड किस देश को टारगेट करना हैं ऑप्शन मिलेगा, अब आप जिस देश को टारगेट कर रहे हैं उस पर क्लिक करें। अब आप बायां कार्नर में आपको गूगल ट्रेंड्स पर क्लिक करके ट्रेंडिंग सर्च पर क्लिक करना हैं।

अब आपको रियल टाइम सर्च और डेली टाइम सर्च के साथ केटेगरी भी दिखेगी, आप यहां से ये देख पाएंगे की लोग क्या सर्च कर रहें हैं आप उसके अनुसार अपने टॉपिक्स बना सकते हैं।

गूगल न्यूज़ की सहायता से ट्रैफिक बढ़ाएं– आप गूगल न्यूज़ से हिंदी और इंग्लिश में टॉपिक्स देख सकते हैं और यदि आपका हिंदी का ब्लॉग हैं तो गूगल न्यूज़ हिंदी से अपने टॉपिक्स का चयन कर सकते हैं। गूगल न्यूज़ के टॉपिक्स से आप अपने नए ब्लॉग पर विजिटर ला सकते हैं।

तीन महीने तक कोशिश करें की आपके नए ब्लॉग पर कम से कम 400 पोस्ट हो– गूगल आजकल नए वेबसाइट पर ध्यान देता हैं तो आपको भी अपने ब्लॉग को गूगल में ये दिखाना पड़ेगा की आप एक फेक पब्लिशर नहीं हैं और आपको लगातार 3 महीने तक कोशिश करनी हैं की आपकी वेबसाइट पर कम से कम 400 पोस्ट हो जाएँ।

आपकी पोस्ट कम से कम 600-700 वर्ड्स की होनी चाहिए। यदि आप लगातार 3 महीने तक प्रतिदिन कंटेंट को पब्लिश करते हैं तो गूगल स्वयं से आपकी कंटेंट को रैंक करेगा, बस आपको ये ध्यान रखना होगा की अपने कंटेंट में कीवर्ड स्टफ़िंग (यानि एक ही कीवर्ड को बार बार लिखना और उस पर ही फोकस किया हैं) नहीं करना हैं।

आप अच्छे से ऑप्टिमाइज़ करके अपने आर्टिकल को लिखिए चाहे आपको कम से कम एक आर्टिकल को लिखने में क्यों 2 से 3 घंटे न लग जाएँ। अपनी वेबसाइट पर सही कंटेंट डालिए जिससे की आपके विजिटर का विश्वास आपकी साइट पर हो जाएँ।

आपको अपनी ब्लॉग पोस्ट को अपलोड करते समय SEO टाइटल और मेटा डिस्क्रिप्शन को जरूर अपडेट करना चाहिए।

आप इन टिप्स का उपयोग शुरू के तीन महीने तक करके शुरुआत में ट्रैफिक ला पाएंगे पर आपका ब्लॉग से लम्बे समय तक कमाई करने का लक्ष्य हैं तो हम आपको ये भी बताने जा रहें हैं आप अपने पुराने ब्लॉग पर हाई ट्रैफिक और विजिटर कैसे लाएं।

पुराने ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए क्या क्या करें?

पुराने ब्लॉग पर हाई ट्रैफिक लाने के लिए आप इन टिप्स को फॉलो कर सकते हैं। ये टिप्स आपके ब्लॉग पोस्ट को टॉप पर लाने में जरूर हेल्प करेंगे।

कंटेंट को नियमित अपडेट करते रहिए– आपको अपने ब्लॉग की पुरानी पोस्ट को नियमित रूप से अपडेट करते रहना चाहिए और उस पोस्ट में नयी-नयी जानकारियों को सम्मिलित करना चाहिए। ऐसा करने से आपके ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग गूगल में अच्छी होती हैं। गूगल अपडेटेड कंटेंट्स को भी महत्वपूर्णता देता हैं।

एक महीने के अनुसार 10-20 टॉपिक्स पर ऑफ पेज एससीओ करें– आपको अपने ब्लॉग में ऑफ पेज एससीओ करना चाहिए। ऑफ पेज एससीओ अपने ब्लॉग को इंटरनेट में प्रमोट करने के लिए होता हैं जिसके लिए आपको दूसरी वेबसाइट से बैक लिंक लेने होता हैं।

आपको बैकलिंक बनाते समय ये धयान रखना चाहिए की जिस वेबसाइट पर आप लिंक बना रहें हैं उस वेबसाइट की डोमेन अथॉरिटी कितनी हैं और स्पैम स्कोर क्या हैं।

डोमेन अथॉरिटी क्या हैं?

डोमेन अथॉरिटी ये बताती हैं की किसी वेबसाइट या ब्लॉग की गूगल में क्या मान्यता हैं। डोमेन अथॉरिटी 1 से 100 के बीच में काउंट होती हैं जो मोज़ टूल के द्वारा दी जाती हैं। यदि आप हाई डोमेन अथॉरिटी पर लिंक बनाते हो तो आपके ब्लॉग की अथॉरिटी भी बढ़ती हैं। जिससे पोस्ट की रैंकिंग अच्छी होने से वह टॉप में आती हैं।

सोशल मीडिया से ट्रैफिक लाएं– आपको अपनी वेबसाइट और ब्लॉग के लिए जानें मानें सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक, ट्विटर, यूटूब, इंस्टाग्राम और पिंटरेस्ट पर अपने ब्लॉग का पेज बनाने चाहिए।

वहां पर आप प्रतिदिन या प्रति सफ्ताह कंटेंट को पोस्ट करके अपनी वेबसाइट का लिंक लगा कर आप इन सोशल मीडिया प्लेटफार्म से ट्रैफिक ले सकते हैं। सोशल मीडिया वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने का एक अच्छा माध्यम हैं।

कोरा (Quora) और भी प्रश्न उत्तर वाली साइट्स पर एक्टिव रहें– Quora (कोरा) पर अपना अकाउंट बना कर वहां लोगों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर देकर आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं।

यदि आपके भी ब्लॉग पर लोगों द्वारा किये गए प्रश्न से लेकर पोस्ट पड़ी हुई हैं तो आप कोरा में उस प्रश्न का उत्तर देकर उसमें अपने आर्टिकल का लिंक लगा के वहां से भी ट्रैफिक ले सकते हैं।

कोरा पर क्या ध्यान रखें-

  • सबसे पहले आप कोरा पर प्रश्न की जाँच करें
  • किसी प्रश्न का उत्तर देते समय उसमें स्पैम कंटेंट न पोस्ट करें
  • कोरा प्लेटफार्म पर अपना नियमित समय दें
  • लोगों का आपके ऊपर थोड़ा विश्वास हो जाएं और आपके कंटेंट पर व्यूज आने लगें तभी अपने ब्लॉग की लिंक वहां देना शुरू करें
  • कोरा की गॉइडलिनेस और नियम को जरूर पढ़े

गेस्ट पोस्ट करें– गेस्ट पोस्ट का मतलब होता हैं की किसी दूसरे के ब्लॉग पर अपनी पोस्ट सबमिट कराना। गेस्ट पोस्ट के लिए आप किसी ब्लॉग के ओनर को मेल के द्वारा अपनी पोस्ट उसके ब्लॉग पर डालने के लिए एप्रोच कर सकते हैं। गेस्ट पोस्ट करने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट से रिलेटेड वाली वेबसाइट को खोजें।

गेस्ट पोस्ट सबमिट करने के लिए आपको कुछ रूपये भी ब्लॉग ओनर को देने पड़ सकते हैं और कई कई वेबसाइट ओनर फ्री में भी आपके आर्टिकल को पोस्ट करते है। आपका आर्टिकल हाई क्वालिटी का होना चाहिए और सबसे बड़ी बात वह आर्टिकल विज़िटर्स के लिए सहायक होना चाहिए।

कमेंट का उत्तर दें– माना जाए तो ये छोटी सी बात हैं की आप अपने ब्लॉग पर आए कमेंट का उत्तर क्यों दें। पर अगर आप सही कमेंट का उत्तर देके विज़िटर की सहायता करते हैं तो लोगों का आपके ऊपर विश्वास बढ़ता हैं और उन्हें भी अच्छा लगता हैं की ब्लॉग का ओनर उनके कमेंट का उत्तर देता हैं।

ब्लॉग स्पीड पर ध्यान दें– आपको अपने ब्लॉग की स्पीड पर हमेशा ध्यान देना चाहिए की आपका ब्लॉग लोड होने में कितना समय ले रहा हैं। आपका ब्लॉग मोबाइल फ्रेंडली होनी चाहिए।

फोन में अपने ब्लॉग की स्पीड तेज करने के लिए आप वर्डप्रेस का फ्री प्लगइन एक्सेलरेटेड मोबाइल पेजेज (AMP) का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह प्लगइन आपके पेज को ओपन करने में कुछ ही सेकण्ड्स लेता हैं। ब्लॉग की स्पीड के लिए आप अपनी ब्लॉग में डाली गई फोटोज को भी ऑप्टिमाइज़ करें।

सर्च कंसोल की एरर पर ध्यान दें– आपको अपने ब्लॉग की सर्च कंसोल में एरर को भी चेक करते रहना चाहिए की कही किसी वजह से आपके ब्लॉग पर कोई एरर तो नहीं आ रही हैं। इस एरर को आप स्वयं या किसी डेवलपर की सहायता से दूर करवा सकते है।

गूगल अपडेट्स को लगातार रूप से चेक करते रहिए– गूगल आजकल 2-3 महीने में अपनी सर्च इंजन अलॉगरिथ्म में अपडेट करता रहता हैं। यदि आपका ब्लॉग किसी भी अल्गोरिथम से हिट होता हैं तो इससे ट्रैफिक के साथ साथ रैंकिंग पर भी बहुत ही फर्क पड़ता हैं और ट्रैफिक कम हो जाता हैं। इसलिए हमें गूगल की पॉलिसी के अनुसार काम करना चाहिए।

सबसे महत्वपूर्ण बात जो आपके लिए जरुरी हैं की आपको अपने ब्लॉग पर नियमित रूप से हाई क्वालिटी का कंटेंट अपडेट करते रहना चाहिए। बीच बीच में गेप नहीं देना चाहिए।

उम्मीद है जागरूक पर ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल