Home » प्रेरक व्यक्तित्व » चाणक्य नीति की 10 सबसे प्रमुख बातें

चाणक्य नीति की 10 सबसे प्रमुख बातें

चाणक्य नीति चाणक्य द्वारा रचित एक नीति ग्रन्थ है जिसे चाणक्य नीतिशास्त्र भी कहा जाता है। संस्कृत साहित्य के नीति ग्रंथों में इस ग्रन्थ का विशेष स्थान है। इस ग्रन्थ का प्रमुख विषय मानव के जीवन को सुखमय और सफल बनाने के लिए व्यावहारिक शिक्षा देना है। ऐसे में आपको भी चाणक्य नीति की प्रमुख सीख जरूर लेनी चाहिए इसलिए आज आपको चाणक्य नीति की प्रमुख बातें बताते हैं।

1. व्यक्ति को कभी भी अपने मन के राज किसी को नहीं बताने चाहिए। उसे अपने राज मन में रखते हुए ही पूरी लगन से अपने कार्य को पूरा करना चाहिए।

2. जो मित्र आपके सामने आपकी प्रशंसा करे और पीठ पीछे निंदा करे, ऐसे मित्र को तुरंत छोड़ देना चाहिए क्योंकि ऐसा मित्र उस बर्तन के समान होता है जिसमें ऊपर दूध लगा हो लेकिन अंदर ज़हर हो।

3. ऐसे माता – पिता अपने बच्चों के दुश्मन के समान है जिन्होंने बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दी। ऐसा शिक्षाविहीन व्यक्ति समाज में सम्मान नहीं पाता है।

4. बचपन में संतान को जैसी शिक्षा दी जाती है उसका विकास उसी प्रकार होता है इसलिए माता – पिता का ये कर्तव्य है कि वे अपनी संतान को सही मार्ग पर चलने की शिक्षा दें जिससे संतान में अच्छे गुण विकसित हों और उसका उत्तम चरित्र विकसित हो सके।

5. मनुष्य के रुप में जन्म मिलना सौभाग्य होता है इसलिए मनुष्य को वेद शास्त्रों का अध्ययन करने और दान जैसे अच्छे कार्य करने में ज्यादा से ज्यादा समय लगाना चाहिए।

6. मनुष्य को कुसंगति से बचना चाहिए क्योंकि मनुष्य की भलाई दुष्ट लोगों का साथ छोड़ देने में ही है।

7. कर्ज से दबा व्यक्ति हर समय दुखी रहता है और उसका दुःख पत्नी वियोग के दुःख और भाई बंधुओं से मिले अपमान के दुःख के समान असहनीय होता है इसलिए कर्ज लेने से बचना चाहिए और बुरे वक्त के लिए धन बचाकर रखना चाहिए।

8. अपने बच्चे को पहले पांच साल दुलार करना चाहिए। अगले पांच साल डांट – फटकार के साथ निगरानी में रखना चाहिए और जब बच्चा सोलह साल का हो जाये तो उसके साथ दोस्त की तरह व्यवहार करना चाहिए।

9. किसी भी व्यक्ति को आवश्यकता से अधिक सीधा नहीं होना चाहिए क्योंकि सीधे तने वाले पेड़ काटे जाते हैं जबकि टेढ़े तने वाले पेड़ों को कोई छूता नहीं है। यहाँ पेड़ के तने की तुलना व्यक्ति के स्वभाव से की गयी है।

10. मित्रता बराबरी वाले लोगों में करना ही ठीक रहता है और हर मित्रता के पीछे कोई ना कोई स्वार्थ जरूर छिपा होता है।

दोस्तों, चाणक्य नीति की 10 प्रमुख बातें अब आप भी जान गए हैं इसलिए इन्हें अपने जीवन के लिए मार्गदर्शक समझिये।

जागरूक टीम को उम्मीद है कि चाणक्य नीति की ये मुख्य बातें आपको पसंद भी आयी होंगी और अपने जीवन को आसान बनाने में सहायक भी साबित होंगी।