क्लाउड स्टोरेज क्या है?

Spread the love

आइये जागरूक पर जानते हैं क्लाउड स्टोरेज क्या है। आप ने क्लाउड स्टोरेज का नाम तो सुना ही होगा होगा और इसके बारे जानने के लिए इच्छुक भी होंगे तो चलिए आज जागरूक पर आपको बताते है की क्लाउड स्टोरेज क्या है? हम ऐसा कह सकते हैं कि क्लाउड स्टोरेज ने डेटा स्टोरेज की परिभाषा को बदल दिया है।

पहले स्टोरेज के लिए फ्लॉपी डिस्क का इस्तेमाल किया जाता था, उसके बाद सीडी, डीवीडी और पैन ड्राइव का चलन बढ़ा और अब क्लाउड स्टोरेज टेक्नोलॉजी आयी है जिसे बहुत पसंद किया जा रहा है। ऐसे में ये जानना जरुरी है कि ये क्लाउड स्टोरेज टेक्नोलॉजी क्या है और ये किस तरह से डेटा को स्टोर करती है।

तो चलिए, आज क्लाउड स्टोरेज के बारे में जानते हैं-

क्लाउड स्टोरेज में आपके डेटा को ऑनलाइन किसी सर्वर (Server) में सुरक्षित रख दिया जाता है जिसे आप कभी भी, कहीं भी आसानी से यूज कर सकते हैं। यहाँ क्लाउड का मतलब होता है ऑनलाइन यानी ऑनलाइन डेटा स्टोर (Online Data Store) करने की टेक्निक क्लाउड स्टोरेज होती है। इसमें डेटा पासवर्ड प्रोटेक्टेड रहता है और अगर आप ज्यादा सिक्योरिटी चाहते हैं तो डबल ऑथेंटिफिकेशन यानी मोबाइल अलर्ट या पिन का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

क्लाउड स्टोरेज का इस्तेमाल आप किसी भी जगह से कर सकते हैं और जरुरत पड़ने पर अपने डेटा को एक्सेस करने का अधिकार किसी दूसरे व्यक्ति को भी दे सकते हैं। अगर आप अपने डेटा को क्लाउड पर स्टोर करना चाहते हैं तो गूगल ड्राइव (Google Drive), वन ड्राइव, ड्रॉपबॉक्स (DropBox) या जियो क्लाउड में से कोई भी ऑप्शन चुन सकते हैं।

आइये, अब क्लाउड स्टोरेज के प्रकारों के बारे में जानते हैं-

1. पर्सनल क्लाउड स्टोरेज (Personal Cloud Storage)

इसे मोबाइल क्लाउड स्टोरेज भी कहा जाता है। इस तरह के स्टोरेज में एक व्यक्ति के डेटा को क्लाउड में स्टोर कर दिया जाता है और उसका एक्सेस उस व्यक्ति को दे दिया जाता है ताकि वो कभी भी, कहीं से भी अपने डेटा को एक्सेस कर सके।

2. पब्लिक क्लाउड स्टोरेज (Public Cloud Storage)

इस तरह का क्लाउड स्टोरेज बड़े एंटरप्राइजेज के लिए होता है। इस तरह के डेटा को मैनेज करने का काम ऐसी कंपनियों का होता है जो एंटरप्राइजेज को स्टोरेज सर्विस प्रोवाइड कराती हैं।

3. प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज (Private Cloud Storage)

क्लाउड स्टोरेज का ये प्रकार सिक्योरिटी थ्रेट को दूर करता है और परफॉरमेंस इश्यूज को भी सॉल्व करता है।

4. हाइब्रिड क्लाउड स्टोरज (Hybrid Cloud Storage)

ये स्टोरेज पब्लिक और प्राइवेट क्लाउड स्टोरेज का कॉम्बिनेशन होता है। इसमें कुछ क्रिटिकल डेटा, एंटरप्राइज के प्राइवेट क्लाउड में रहता है और दूसरे डेटा को पब्लिक क्लाउड स्टोरेज प्रोवाइडर द्वारा स्टोर और एक्सेस किया जा सकता है।

आइये, अब जानते हैं कि क्लाउड स्टोरेज का इस्तेमाल कैसे करें

अगर आप क्लाउड स्टोरेज का इस्तेमाल करना चाहते हैं और अपने फोन से फोटोज, वीडियो, कॉन्टेक्ट और डाक्यूमेंट्स क्लाउड पर स्टोर करना चाहते हैं तो आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा-

स्टेप 1:- सबसे पहले आप एक जीमेल अकाउंट बनायें।

स्टेप 2:- अब अपने जीमेल अकाउंट को अपने एंड्राइड फोन में लॉग इन करें।

स्टेप 3:- अब ‘drive’ एप को अपने फोन में ओपन करें और ‘+’ ऑप्शन पर क्लिक करें।

स्टेप 4:- अब स्क्रीन पर दिखने वाले बहुत से ऑप्शंस में से ‘upload’ ऑप्शन पर क्लिक करें।

स्टेप 5:- अब गैलेरी में से फोटो, वीडियो, डॉक्यूमेंट को सलेक्ट करके ड्राइव पर अपलोड कर लें।

इन स्टेप्स को फॉलो करके आप आसानी से अपने डेटा को क्लाउड स्टोरेज पर स्टोर कर सकते हैं और यहाँ आपका डेटा पूरी तरह सुरक्षित रहेगा।

दोस्तों, क्लाउड स्टोरेज क्या होता है और इस पर डेटा को कैसे स्टोर किया जाता है, इसके कितने प्रकार होते हैं, इस तरह की जानकारियां अब आपके पास आ गयी हैं इसलिए अब आप आसानी से अपने डेटा को सेफ कर सकते हैं।

जागरूक टीम को उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और अपने डेटा को क्लाउड स्टोरेज में स्टोर करने में मदद भी करेगी।

ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है? – What is online marketing?

Leave a Comment