Home » खेती » कोको पीट क्या है?

कोको पीट क्या है?

आइये जानते हैं कोको पीट क्या है। आपको जागरूक पर हमने बिना मिट्टी के पेड़-पौधों को उगाने की तकनीक बताई थी जिसका नाम था “हाइड्रोपोनिक्स”! आज हम आपके साथ बिना मिट्टी के पौधे उगाने की दूसरी तकनीक साझा करने जा रहे हैं इस तकनीक का नाम है “कोको पीट”।

अब आपके मन में प्रश्न आ रहा होगा की ये दोनों “हाइड्रोपोनिक्स” और “कोको पीट” एक ही तकनीक है क्या? तो हम आपको बता दें की ये दोनों तकनीक अलग-अलग है पर दोनों का काम एक ही है बिना मिट्टी के पौधों को उगाना और अच्छे से समझने के लिए आप नीचे लेख में देख सकते हैं।

हाइड्रोपोनिक्स– पौधों को बिना मिट्टी के उगाने की प्रकिया को हाइड्रोपोनिक्स कहा जाता है। इस तकनीक में पानी में कुछ घोल को तैयार करके उससे पौधों के साथ-साथ सब्जियों को भी उगाया जाता है। पानी में इस तरह के आवश्यक खनिज एवं पोषक तत्व मिलाएँ जाते हैं जो की पौधों की बढ़वार में सहायक हो सके।

कोको पीट क्या है?

पौधों के विकास के लिए बहुत सारे आवश्यक पोषक तत्व की आवयश्कता होती है। ये आवश्यक पोषक तत्व नारियल के रेशों में प्राकृतिक रूप से पाए जाते हैं इन्ही नारियल के रेशों को कृत्रिम रूप (Artificial Form) से अन्य पोषक खनिज लवणों के साथ मिलाकर Artificial मिट्टी का निर्माण करने की प्रक्रिया को “कोको पीट” कहते हैं। यह तकनीक इजरायल ने विकसित की है जो लोगों के बागवानी के सपने को पूरा कर रही है।

अब आपको समझ में आ गया होगा की ये “कोको पीट” क्या है अब हम “कोको पीट” के लाभ बताने जा रहें हैं- आइये जानते हैं।

कोको पीट के लाभ

  • कोको पीट तकनीक का इस्तेमाल करने पर हमें पौधों में एक बार पानी डालने के बाद कुछ दिन तक पानी डालने की आवश्यकता नही होती है।
  • कोको पीट से हम बिना मिट्टी के पौधों को उगा सकते हैं।
  • Artificial Form से बनी यह मिट्टी भी सामान्य मिट्टी की तरह ही कार्य करती है और हमारे पौधों की पैदावार भी अच्छी होती है।
  • Artificial Form से मिट्टी बहुत ही कम दिनों में बन कर तैयार हो जाती है।

उम्मीद है आपको जागरूक के माध्यम से कोको पीट क्या है की ये जानकारी पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद साबित हुई होगी।

जागरूक यूट्यूब चैनल