गीता का सबसे प्रमुख उपदेश क्या है?

गीता का सबसे प्रमुख उपदेश क्या है

आइये जागरूक पर जानते हैं गीता का सबसे प्रमुख उपदेश क्या है। गीता में ज्ञान को सर्वोच्च रखा गया है और इसमें ना केवल अर्जुन की दुविधा को दूर किया गया है बल्कि मोह और अज्ञान से ग्रस्त हर मनुष्य को जीवन में कर्तव्य की सर्वोच्चता का ज्ञान कराया गया है। गीता में श्री कृष्ण … Read more

पुराण क्या है और पुराणों को पढ़ने से क्या होता है?

पुराण क्या है और पुराणों को पढ़ने से क्या होता है

आइये जागरूक पर जानते हैं पुराण क्या है और पुराणों को पढ़ने से क्या होता है। पुराणों के बारे में आप इतना तो जरूर जानते होंगे कि ये धार्मिक ग्रन्थ हैं जो प्राचीन जीवन की गहन जानकारी प्रदान करते हैं लेकिन पुराण इतने विस्तृत हैं कि इनके बारे में जितना जाना जाये, उतना ही कम … Read more

पुराणों में गाय को इतना महत्त्व क्यों दिया गया है?

पुराणों में गाय को इतना महत्त्व क्यों दिया गया है

हमारे प्राचीन ग्रन्थ वेदों में गाय को बहुत महत्त्व दिया गया है और गाय के प्रत्येक अंग में देवता के वास को स्वीकारा गया है। इतना ही नहीं, गाय के गोबर और पैरों की मिट्टी को भी पवित्र माना गया है। ऐसे में क्यों ना आज, इसी बारे में बात की जाये। तो चलिए, आज … Read more

अथर्ववेद में क्या है और उसका दैनिक जीवन में क्या उपयोग है?

अथर्ववेद में क्या लिखा हुआ है

आइये जागरूक पर जानते हैं अथर्ववेद में क्या है और उसका दैनिक जीवन में क्या उपयोग है। अथर्ववेद हिन्दू धर्म के पवित्रतम चार ग्रंथों में से एक है जिसे ब्रह्मवेद भी कहा जाता है। इस वेद की भाषा और स्वरूप के आधार पर ये माना जाता है कि इस वेद की रचना सबसे बाद में … Read more

महाभारत ग्रन्थ किसने और क्यों लिखा?

महाभारत ग्रन्थ किसने और क्यों लिखा

महाभारत के युद्ध के बारे में तो आप बहुत कुछ जानते होंगे लेकिन क्या आपको ये पता है कि महाभारत ग्रन्थ की रचना किसने की और इस महान ग्रन्थ के लेखक कौन थे? अगर आप इस बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो क्यों ना आज, इसी बारे में बात की जाए। तो चलिए, आज … Read more

पंचतंत्र की कहानियां किसने और क्यों लिखी?

पंचतंत्र की कहानियां किसने और क्यों लिखी

पंचतंत्र की कहानियां तो शायद आपने भी अपने बचपन में सुनी होगी और इन कहानियों को आपने बहुत पसंद भी किया होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि पंचतंत्र की ये कहानियां आप के दौर में नहीं लिखी गयी थी बल्कि इनका इतिहास तो बहुत पुराना है। ऐसे में क्यों ना आज, पंचतंत्र की कहानियों … Read more

रावण की लिखी हुई प्रमुख रचनाएं कौन सी है?

रावण की लिखी हुई प्रमुख रचनाएं

आइये जागरूक पर जानते हैं रावण की लिखी हुई प्रमुख रचनाएं कौन सी है। लंका का राजा रावण अपने दस सिरों के कारण दशानन कहलाया। रावण सारस्वत ब्राह्मण पुलस्त्य ऋषि का पौत्र था। ब्राह्मण पिता विश्रवा और राक्षसी माता कैकसी का पुत्र रावण विष्णु विरोधी था लेकिन इसके साथ – साथ वो परम वाल्मीकि भक्त, … Read more

मनुस्मृति किसके द्वारा व कब लिखी गयी?

manusmriti

आइये जानते हैं मनुस्मृति किसके द्वारा व कब लिखी गयी (manusmriti ki rachna kisne ki thi)? ऋषि मनु का नाम तो आपने भी जरूर सुना होगा जिन्हें ऋग्वेद में मानव जाति का पिता कहा गया है। ऋषि मनु द्वारा रचित मनुस्मृति हिन्दू धर्म का एक प्राचीन धर्मशास्त्र है जिसे मनु संहिता भी कहा जाता है … Read more

सांता क्लॉज कौन है?

आइये जानते हैं सांता क्लॉज कौन है। प्रतिवर्ष 25 दिसंबर को क्रिसमस के मौके पर बच्चों के प्यारे लाल-सफेद कपड़ों में बड़ी-सी सफेद दाढ़ी और बालों वाले सांता क्लॉज आते हैं और अपने कंधे पर तोहफों से भरी पोटली से बच्चों को गिफ्ट निकलकर देते हैं। ज्यादातर लोगों को नहीं पता होता है की सिर … Read more

हज क्या है?

आइये जानते हैं हज क्या है। हर साल दुनिया भर से करीब 20 लाख से ज्यादा मुस्लिम हज यात्रा के लिए सऊदी अरब के मक्का-मदीना जाते हैं। इस्लाम के मुताबिक हर मुसलमान को अपनी जिंदगी में एक बार हज की यात्रा ज़रूर करनी चाहिए। जिस तरह हिंदूओं के लिए जिंदगी में एक बार “चार धाम … Read more

श्रीमद्भगवद्‌गीता का महत्व

आइये जानते हैं श्रीमद्भगवद्‌गीता का महत्व क्या है। श्रीमद्भगवद्‌गीता हिन्दू धार्मिक ग्रंथों में से एक विशेष ग्रन्थ रहा है जो वर्तमान में भी हमारी समस्याओं के हल निकालने में सहायक साबित होता है। इस ग्रन्थ में हजारों सालों पहले दिए गए ऐसे उपदेशों का संग्रह है जो आज भी जीवन से जुड़े हर मसले को … Read more

शुद्ध पारद शिवलिंग की पहचान

आइये जानते हैं शुद्ध पारद शिवलिंग की पहचान का तरीका। धर्मशास्त्रों के अनुसार पारद शिवलिंग साक्षात् भगवान शिव का ही रुप होता है इसलिए विधि विधान से इसकी पूजा करने से कई गुना फल प्राप्त होता है। पारद शिवलिंग शांति, सुख, सौभाग्य और स्वास्थ्य लेकर आता है। पारद (पारा) को रसराज कहा जाता है और … Read more