Home » ऑनलाइन बिजनेस » डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है?

आइये जानते हैं डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है। आप में से ज्यादातर लोग PPC के बारे में जानते होंगे और कभी ना कभी सुना या पढ़ा भी होगा PPC मार्केटिंग के बारे में? लेकिन अगर आप PPC मार्केटिंग के बारे में और अधिक जानने के लिए उत्सुक हैं ताकि आप अपने व्यवसाय के लिए PPC मार्केटिंग का उपयोग कर सके।

तो आज जागरूक पर आपको PPC मार्केटिंग से जुडी जानकारी देने जा रहे ताकि आप इसका उपयोग अपने बिज़नेस के लिए कर सके। तो आइये जानते है PPC के बारे।

डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है?

PPC क्या है? (What is PPC)

पीपीसी का अर्थ है पे-पर-क्लिक (Pay-Per-Click)। यह इंटरनेट मार्केटिंग का एक तरह का मॉडल है जिसमें विज्ञापनकर्ता अपने विज्ञापनों में से किसी एक पर क्लिक करने पर हर बार शुल्क का भुगतान करते हैं।

अनिवार्य रूप से, PPC आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने का एक तरीका है। सर्च इंजन विज्ञापन पीपीसी के सबसे लोकप्रिय रूपों में से एक है। यह विज्ञापनदाताओं को किसी सर्च इंजन के प्रायोजित लिंक में विज्ञापन प्लेसमेंट के लिए Bid (बोली) लगाने की अनुमति देता है।

जब कोई व्यक्ति किसी ऐसे की-वर्ड पर खोज करता है जो उनके व्यवसाय की पेशकश से संबंधित होता है और जब भी हमारे विज्ञापन पर क्लिक किया जाता है, जिससे हमारी वेबसाइट पर विज़िटर आते है इसके लिए हमें सर्च इंजन को एक छोटा सा शुल्क देना पड़ता है।

जब PPC सही तरीके से काम कर रहा होता है तो यह शुल्क कुछ भी नहीं है, क्योंकि ट्रैफिक आपकी वेबसाइट और बिज़नेस के लिए काफी लाभदायक है। जैसे की मान लीजिये यदि हम एक क्लिक के लिए $3 का भुगतान करते हैं, लेकिन इसी क्लिक के परिणामस्वरूप हमारी वेबसाइट से $300 की सेल होती है, तो यह हमारे लिए एक शानदार सौदा (Deal) होता है और इसके लिए $ 3 का भुगतान करना कोई बड़ी बात नहीं है।

एक अच्छे PPC कैंपेन (campaign) के लिए रिसर्च (research) और अच्छे की-वर्ड (keywords) का चयन करना बहुत ही आवश्यक होता है। यदि आपके विज्ञापन और लैंडिंग पृष्ठ उपयोगकर्ताओं के लिए उपयोगी और संतोषजनक होते हैं तो Google आपसे प्रति क्लिक के कम शुल्क लेता है, जिससे आपके व्यवसाय के लिए अधिक लाभ होता है।

इसलिए यदि आप पीपीसी का उपयोग शुरू करना चाहते हैं, तो यह जरुरी है की आपके विज्ञापन और लैंडिंग पृष्ठ उपयोगकर्ताओं के लिए उपयोगी और संतोषजनक हो।

PPC क्यों जरुरी है? (Why PPC is Important)

आप सोच रहे होंगे की PPC ही हमारे ऑनलाइन बिज़नस की मार्केटिंग के लिए क्यों जरुरी है आखिर ऑनलाइन पैसे देकर विज्ञापन (paid advertisement) की जरुरत क्यों पडती है। तो आइये आपको बताते है की PPC हमारे ऑनलाइन बिज़नस की मार्केटिंग के लिए क्यों जरुरी है-

1. वेबसाइट पर विजिटर लाने के लिए PPC का उपयोग:- जब आप अपने बिज़नस को ऑनलाइन करना चाहते है तो आपको अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक की जरुरत तो होती ही साथ ही साथ यूजर आपके प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा खरीदें इसके लिए भी टार्गेटेड ट्रैफिक की भी जरुरत होती है और PPC advertisment के जरिये ही आपको यह टार्गेटेड ट्रैफिक बहुत ही कम समय में प्राप्त हो जाता है।

हालंकि टार्गेटेड ट्रैफिक के लिए आप SEO का भी उपयोग कर सकते है लेकिन SEO के मुक़ाबले PPC के जरिये आप अपनी वेबसाइट पर जल्दी ट्रैफिक ला सकते हैं। इसका मतलब ये नहीं की आप अपनी वेबसाइट के लिए SEO का उपयोग मत करो बल्कि SEO करना बहुत ही जरुरी है क्योंकि तभी तो आपकी वेबसाइट की वैल्यू google पर बनेगी लेकिन अगर आपको अपनी वेबसाइट पर जल्दी sell और ट्रैफिक चाहिए तो PPC आपके लिए एक बेहतर तरीका है मार्केटिंग का।

2. कॉस्ट इफेक्टिव (Cost effective):- आप अपने बिज़नेस को अगर ऑफलाइन प्रमोट करना चाहते है तो इसके लिए काफी ज्यादा इन्वेस्टमेंट करना पड़ता है लेकिन यदि अगर आप अपने बिज़नेस को ऑनलाइन प्रमोट करना चाहते है और इसके लिए अगर PPC मार्केटिंग का उपयोग करते हैं तो आपको बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट में बहुत ही जल्दी और बहुत ही अच्छा रिजल्ट मिल सकता है।

3. PPC का उपयोग re-marketing और re-targeting के लिए करना:- यदि आप ज्यादा से ज्यादा conversion प्राप्त करना चाहते है तो आप PPC के जरिये अपने विज्ञापन की re-marketing और re-targeting कर सकते है जो की conversion rate increase करने का एक बेहतर तरीका है।

Re-marketing और Re-targeting कैंपेन का उपयोग तब करते है जब कोई यूजर आपके विज्ञापन पर क्लिक करके आपकी वेबसाइट पर विजिट करता है पर वह प्रोडक्ट खरीद नहीं पाता है तो इसके लिए आप re-marketing और re-targeting कैंपेन के जरिये उसको वह प्रोडक्ट दुबारा दिखा सकते है ताकि अगर वह इसको खरीदना चाहता है तो खरीद सके।

4. PPC के अन्य फायदे:- इसके अलावा PPC के कई और भी फायदे है जैसे की-

  • जब हम google सर्च ad कैंपेन बनाते है तो काफी सारे की-वर्ड का उपयोग करते है जिससे हमे SEO करने में भी काफी हेल्प मिलती है इससे हमे पता चल जाता है की किस तरह के की-वर्ड हमारी वेबसाइट के लिए बेहतर होते है।
  • PPC advertising के द्वारा अपने मोबाइल app को इनस्टॉल करा सकते हो जिससे हमे मोबाइल मार्केटिंग में भी हेल्प मिलती है।
  • PPC के द्वारा अपने Email Ke signup लिस्ट को increase कर सकते है जिससे ईमेल मार्केटिंग में भी हेल्प मिलती है।
  • PPC के जरिये यूजर डायरेक्ट कांटेक्ट कर सकते हैं, साथ ही आपके एरिया के प्रोडक्ट और सर्विस को भी देख सकते हैं।

PPC का मूल्य निर्धारण (PPC Pricing)

आशा है PPC क्या है और यह क्यों जरुरी है? आप अच्छे से समझ गये होंगे तो आइये अब जानते है की PPC में मूल्य का निर्धारण कैसे किया जाता है?

सामान्यतः PPC का मूल्य दो फैक्टर्स पर निर्भर करता है-

  1. Location:- Location में यह देखा जाता है की यूजर किस क्षेत्र से सर्चिंग कर रहा है जैसे की मान लीजिये यदि आपका विज्ञापन नेपाल, भूटान, पाकिस्तान, बांग्लादेश जैसे देशों के लिए है तो आपको विज्ञापन के लिए अधिक खर्च करने की आवश्यकता नहीं होती है लेकिन अगर यदि आप अमेरिका, दुबई, ब्रिटेन, कनाडा मे विज्ञापन करना चाहते है तो उसके लिए आपको थोड़ा अधिक खर्च करना पड़ सकता है।
  2. Keyword:- दूसरा अगर बात करें Keyword की तो, keyword के आधार पर भी PPC के मूल्य का निर्धारण होता है। जैसे की मान लीजिये यदि आपका की-वर्ड Loan, Insurance, Health आदि से सम्बन्धित है तो आपको अच्छी कीमत के विज्ञापन चलाने की जरूरत होती है। इसके अलावा आप अपने पसंद व बजट के हिसाब से विज्ञापन चला सकते है।

PPC का उपयोग कब करें? (When to use PPC)

हमेशा प्रॉब्लम ये आती है की PPC का उपयोग कब करना चाहिए ताकि हमे अच्छा ट्रैफिक और सेल प्राप्त हो सके इसके लिए हम कुछ टिप्स आपके साथ शेयर कर रहे आप उनके अनुसार इसका उपयोग कर सकते है-

  • PPC एडवरटाइजिंग मार्केटिंग का एक Paid प्रोसेस होता है इसलिए हम इसका बार-बार प्रयोग भी नही कर सकते हमे इसका उपयोग तभी करना चाहिए जब इसकी जरुरत हो या फिर कोई नया प्रोडक्ट लॉन्च करना हो या किसी विशेष प्रोडक्ट की जानकारी यूजर तक पहुँचानी हो।
  • अगर आप स्टार्टअप हैं मतलब की आपने अभी अपने बिज़नेस की शुरुआत की है और आपको अपने ब्रांड को प्रमोट करने की जरुरत हैं तो आप PPC का प्रयोग करें। क्योंकि Paid advertising campaign आपके ब्रांड की awareness के लिए बेस्ट मार्केटिंग तरीका है।
  • जब आप अपना कोई प्रोडक्ट ऑनलाइन सेल करना चाहते हो और खासकर इंडिया में तो आप PPC का उपयोग करें इसके अलावा जब फेस्टिवल सीजन चल रहा हो और आपको जल्द से जल्द अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक चाहिए तब आप PPC एडवरटाइजिंग का प्रयोग करें।

PPC एडवरटाइजिंग मॉडल के कुछ इम्पोर्टेन्ट पॉइंट्स (Some important points of PPC advertising model)

जब भी हम अपने ऑनलाइन बिज़नस की मार्केटिंग या अपने प्रोडक्ट, ब्रांड को प्रमोट करने के लिए PPC ad कैंपेन बनाते हैं तो उस समय हमे कुछ पॉइंट्स का को ध्यान में रखना होता है तो आइये जानते है इन पॉइंट्स के बारे में-

1. की-वर्ड (Keyword):- आपके paid एडवरटाइजिंग कैंपेन को सक्सेस बनाने के पीछे सही की-वर्ड का प्रयोग करना बहुत ही जरुरी होता है इसका कारण यह है कि लोग Google पर आपके ad को तभी देख पाएंगे जब आपने अपने इस ad कैंपेन में उन शब्दों का उपयोग किया है जो लोग Google पर सर्च करते हैं।

अगर आप ज्यादा पैसे खर्च करके के भी ad कैंपेन बनाते है तब भी आपका ad गूगल पर टॉप में show नही करेगा इसके लिए बेहतर है की सही की-वर्ड रिसर्च करके प्रयोग किया जाये।

2. Ad Creation:- आप गूगल पर paid ad बनाते हो तो आप किस तरह अपने ads को डिजाइन करते हो ये बहुत ही जरुरी होता है। इसके लिए आपको अपने ads को डिजाइन करते इन सभी को शामिल करना चाहिए-

  • Headline
  • URL
  • Description
  • Site-link extensions

3. Budget & Bids:- आप paid ads कैंपेन के लिए कितना पैसा लगाना चाहते है यह पहले ही सोच ले। इसके लिए आप कब तक अपने ad कैंपेन को चलाना चाहते हो और कितना बजट इसके लिए देना चाहते हो तथा per day कितना pay करते हो आदि ये सब आपको पूरा analysis करके ही decide करना है।

4. Targeting:- इन सभी के अलावा भी कुछ ओर ऐसे पॉइंट्स हैं जो आपके टारगेट कैंपेन के लिए बहुत जरुरी होते हैं जैसे की-

  • डिवाइस (Device):- आप कौन-कौन से डिवाइस पर अपना ad कैंपेन चलाना चाहते है ताकि अच्छा प्रॉफिट ले सके ये जरूर ध्यान में रखें।
  • लोकेशन (Location):- आप अपने ad को किस-किस लोकेशन पर दिखाना चाहते है जहाँ से आपको अच्छे विजिटर मिल सके ये भी आपको decide करना होता है।
  • दिन और समय (Day & Time):- आप अपने ads को किस समय और किस दिन व कितने दिन दिखाना चाहते हो ये सब भी आपको decide करना बहुत ही जरुरी है।

हमें आशा है की जागरूक पर आप इस पोस्ट के माध्यम से अच्छे से समझ गये होंगे की डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है, क्यों जरुरी है। उम्मीद है जागरूक पर यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

घर बैठे ऑनलाइन पैसे कमाना चाहते हैं तो ये तरीके अपनाएं

अधिक जानकारी के लिए ये भी देखें:

What Is PPC? Learn the Basics of Pay-Per-Click (PPC) Marketing

2 thoughts on “डिजिटल मार्केटिंग में पीपीसी क्या है?”

Comments are closed.