गूगल एड्स पर की-वर्ड कैसे चयन करे?

Spread the love

आज जागरूक पर आपको बताएंगे की गूगल एड्स पर की-वर्ड कैसे चयन करें ताकि हमारे प्रोडक्ट या सर्विस जो भी हम ऑनलाइन सेल करने चाहते है वो आसानी से गूगल सर्चिंग में टॉप रैंकिंग में आ सके। आप में से की-वर्ड के बारे में तो कुछ लोग जानते होंगे और कुछ जानना चाहते होंगे की, की-वर्ड होते क्या है और इनका उपयोग कैसे और किस तरह करना चाहिए व ये की-वर्ड किस काम आते है आपके इन्ही सब सवालों के जवाब के साथ-साथ आज हम जागरूक पर देंगे।

आपको बता दें की हम जब अपने बिज़नेस को ऑनलाइन करते है और ऑनलाइन के माध्यम से अपने ब्रांड्स, प्रोडक्ट्स व सर्विस सेल करते है तो लोगों तक यह प्रोडक्ट कैसे पहुंच पाता है या फिर ये कह ले की ये हमारे प्रोडक्ट की जानकारी कैसे लोगों तक पहुंच पाती है या हमारे प्रोडक्ट गूगल सर्चिंग में कैसे आते है ये सब निर्भर करता है की-वर्ड पर। जी हाँ जब भी हम अपने प्रोडक्ट को ऑनलाइन सेल करते है तो हम किस तरह के की-वर्ड का उपयोग करते है यह बहुत जरुरी है।

मान लीजिये आपका गारमेंट्स का बिज़नेस है और आप अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन सेल करना चाहते है तो इसके लिए आप अपने प्रोडक्ट को सेल करने हेतु सोशल मीडिया या फिर ऑनलाइन विज्ञापन का सहारा लेते है लेकिन इन सब के लिए आप कुछ की-वर्ड का उपयोग करते है जो की आप के प्रोडक्ट से जुड़े हुए होते है और जब भी कोई यूजर गूगल पर या फिर किसी वेबसाइट पर आपके की-वर्ड से जुड़ा कुछ सर्च करता है तो आपके प्रोडक्ट उसे दिखाई देते है और इससे वह आपके प्रोडक्ट को खरीद पाता है।

इसलिए अपने प्रोडक्ट को सर्चिंग हेतु उपयोगी बनाने के लिए व गूगल पर टॉप रैंकिंग में लाने हेतु सही की-वर्ड का चयन करना बहुत ही जरुरी है। इंटरनेट मार्केटिंग पिछले कुछ वर्षों से काफी अधिक तेजी से बढ़ रही है। कुछ लोग गूगल एड्स कैंपेन के लिए सही की-वर्ड्स का चयन नहीं कर पाते है, इसलिए आज हम इस पोस्ट के माध्यम से इन सभी के बारे में जानकारी देने जा रहे है जिससे की वह आसानी से अपने गूगल एड्स कैंपेन के लिए सही की-वर्ड का चयन कर सकेंगे।

आइये जागरूक के माध्यम से विस्तार से जानते है इन सभी के बारे में-

1. गूगल एड्स की-वर्ड क्या है?

ये समझ लीजिये की की-वर्ड किसी भी गूगल एड्स कैंपेन की एक तरह की नींव होती है। साधारण शब्दों में समझे तो की-वर्ड ऐसे शब्द या वाक्यांश होते हैं जिन्हें लोग Google पर सर्च हैं। जैसे की “कॉफ़ी”, “फैशन डिज़ाइनर”, “बिल्डिंग कॉन्ट्रैक्टर” और “वेब डिज़ाइन” ये सभी की-वर्ड हैं।

गूगल एड्स हमेशा एक की-वर्ड से matched होते हैं। जैसे की मान लीजिये आप वेब डिज़ाइन का काम करते है और इससे जुडी सर्विस प्रदान करते हैं, इसलिए आप “वेब डिज़ाइन” की-वर्ड का उपयोग करके एक गूगल एड्स कैंपेन चलाते हैं। इस कैंपेन में आपने जो की-वर्ड चुना है उससे यह फायदा होगा की जब भी कोई गूगल पर “वेब डिज़ाइन” सर्च करेगा या इससे जुड़ा कुछ अन्य वर्ड सर्च करेगा तो आपका विज्ञापन उसे दिखाई देगा और यदि कोई इस विज्ञापन पर क्लिक करता है, तो वे आपकी वेबसाइट पर विजिट करते है और इसके लिए आपको Google को भुगतान करना होता हैं।

हालाँकि, यह उतना सरल नहीं होता क्योंकी कुछ ऐसी चीजें है जो इसे थोड़ा और जटिल बनाती हैं जैसे की-

  • आपके जैसे हजारों लोग और भी हैं जो Google सर्चिंग में गूगल के First page पर आना चाहते हैं जो की एक तरह से कॉम्पीटीशन तैयार करते है। आपके की-वर्ड से को लेकर जितने ज्यादा बिज़नेसमेन होंगे जो की इसी की-वर्ड का उपयोग कर के गूगल के फ्रंट पेज पर सर्चिंग में आना चाहते है उतना ही आपके लिए यह कॉम्पीटीशन बढ़ता जायेगा और आपको Google के फ्रंट पेज पर आने के लिए उतना ही जयादा भुगतान करना पड़ेगा। आप जितना ज्यादा पैमेंट गूगल को करेंगे उतनी ही संभावना आपके विज्ञापन की सर्च के लिए बेहतर होगी।
  • गूगल तब ही आपके विज्ञापन को सूचीबद्ध करेगा जब आप अपने प्रोडक्ट से जुड़े की-वर्ड का ही उपयोग करते है। जैसे की मान लीजिये आप एक कॉफी शॉप का बिज़नेस करते है और अपने इस बिज़नेस के लिए आप गूगल एड्स पर विज्ञापन के लिए आवेदन करते है और अपने इस विज्ञापन के लिए आप की-वर्ड “वेब डिज़ाइन” को चुनते है, तो आपके इस विज्ञापन की सूचीबद्ध होने की संभावना नहीं है। क्योंकि यह एक गलती है क्योंकि वेब डिज़ाइन की खोज करने वाले लोगों को कॉफी की शॉप की तलाश होने की संभावना नहीं है। Google जानता है कि यह एक गलती है और वह आपके विज्ञापन को सूचीबद्ध होने से फ़िल्टर कर देगा। इसलिए यह जरुरी है कि आप ऐसे की-वर्ड का उपयोग करें जो आप के प्रोडक्ट और बिज़नेस से जुड़े हो।
  • एक प्रभावी एड्स कैंपेन चलाने के लिए, हमे केवल एक की-वर्ड का उपयोग नहीं करना चाहिए, बल्कि की-वर्ड की एक सूची तैयार करनी चाहिए और उनमे से की-वर्ड का उपयोग करना चाहिए और इस सूचि में ऐसे ही की-वर्ड को शामिल करना चाहिए जो की सही और अच्छे रिजल्ट दे सके।

2. गूगल एड्स पर की-वर्ड कैसे चयन करे?

अब आपको बताते है की गूगल एड्स पर की-वर्ड कैसे चयन करें? इसके लिए ज्यादातर विज्ञापनदाता की-वर्ड प्लानर का उपयोग करते हैं। की-वर्ड प्लानर एक बहुत ही बेहतरीन टूल है क्योंकि यह आपको search volume को भी बताता है और यही कारण है कि वेबसाइट का SEO करते समय भी इस टूल का उपयोग किया जाता हैं।

Google Keyword Planner, गूगल द्वारा प्रोवाइड किया गया एक फ्री टूल है जिसे आप गूगल एड्स पर कैंपेन तैयार करते समय की-वर्ड चयन करने के लिए उपयोग में ले सकते हैं। की-वर्ड्स को सर्च करने के लिए आपको यहाँ Keywords की Monthly Searches, Competition, Suggest Bid इत्यादि ऑप्शन मिलेंगे। इसका उपयोग कैसे करना है इसके लिए हम आपके साथ कुछ स्टेप्स साझा कर रहे है आप उन्हें फॉलो कर सकते है-

  • सबसे पहले गूगल सर्च पेज पर “Google Keyword Planner” सर्च करें या फिर इस Google Keyword Planner लिंक पर क्लिक कर के डायरेक्ट “Google Keyword Planner” पर विजिट करें। इसके पश्चात “Go to keyword planner” बटन पर क्लिक करें।

गूगल एड्स पर की-वर्ड कैसे चयन करे

  • बटन पर क्लिक करने के बाद मेनू में टूल्स एंड सेटिंग ऑपशन पर क्लिक करें। इसके बाद की-वर्ड प्लानर ऑपशन पर क्लिक करें।

गूगल Ads पर की-वर्ड कैसे चयन करे

  • अब आपको दो ऑप्शन दिखेंगे-
    1. Discover New Keywords:- आप जब इस ऑप्शन पर क्लिक करते हैं तो आपको की-वर्ड्स की Monthly Searches, Competition के अलावा आप की-वर्ड की Low Bid और Maximum Bid देख सकते हैं। इसके अलावा अपने कैंपेन के लिए की-वर्ड find कर सकते हैं।

गूगल Ads पर की-वर्ड कैसे चयन करे

इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद सर्च बार में अपने प्रोडक्ट से जुड़ा कोई की-वर्ड सर्च करें और “Get Results” बटन पर क्लिक करें। जैसा फोटो में दिखाया गया है हमने इसमें “Buy t-shirt” सर्च किया है और इसके बाद “Get Results” बटन पर क्लिक किया तो हमे इससे जुड़े और अन्य की-वर्ड दिखाई दे रहे है। ऐसे ही आप भी अपने प्रोडक्ट से जुड़ा कोई की-वर्ड सर्च कर सकते है और इससे जुड़े कई बेहतर की-वर्ड यहां देख सकते है।

गूगल Ads पर की-वर्ड कैसे चयन करे

  1. Get Search Volume and Forecasts:- इस ऑप्शन पर क्लिक करके आप Maximum CPC, Historical Clicks, Impression Details इत्यादि देख सकते हैं।

गूगल Ads पर की-वर्ड कैसे चयन करे

3. कितने की-वर्ड का चयन करना चाहिए?

अगर आप अपने विज्ञापन में बहुत सारे की-वर्ड को ऐड करते है तो ये आपके गूगल एड्स कैंपेन के लिए सही नहीं है इससे आपके विज्ञापन कम प्रासंगिक हो सकते हैं। कम प्रासंगिक विज्ञापन होने का अर्थ है कम गुणवत्ता स्कोर और इस कारण आपका विज्ञापन कई बार सर्चिंग में भी नहीं आ पाता। इसलिए आप गूगल एड्स पर की-वर्ड का चयन करते समय की-वर्ड की संख्या को सीमित रखें।

अब आपके मन में यह सवाल जरुर आ रहा होगा की आखिर प्रति विज्ञापन समूह में कितने की-वर्ड ऐड करने चाहिए? तो आपको बता दें की Google प्रति विज्ञापन समूह में 5-20 कीवर्ड जोड़ने की सलाह देता है। लेकिन आप कम से कम 5 की-वर्ड और ज्यादा से ज्यादा 10-12 की-वर्ड का ही उपयोग करें जो की एक दम सही और अच्छे होने चाहिए और सबसे खास बात की आपके प्रोडक्ट और ब्रांड्स से जुड़े हुए होने चाहिए।

इसके अलावा आप “Single Keyword Per Ad Group” का भी उपयोग कर सकते है इसके लिए बस आपको इतना करना है की उस प्रत्येक की-वर्ड के लिए एक Ad Group बनाना है जिसे आप टारगेट करना चाहते हैं। हो सकता है इसमें समय लगे, लेकिन इससे आपके विज्ञापन काफी अधिक प्रासंगिक होंगे और इस तरह आप एक ऐसा विज्ञापन बना सकते हैं जिसमें अच्छे और गुणवत्ता वाले की-वर्ड शामिल होंगे।

4. Landing page क्यों मायने रखता है?

अगर आप चाहते हो की आप के द्वारा जो गूगल एड्स कैंपेन चलाया गया है उस कैंपेन से ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट हो और ज्यादा से ज्यादा लोग आपकी वेबसाइट पर विजिट करें तो इसके लिए आपकी वेबसाइट का landing पेज attractive और actionable होना बहुत ही जरुरी है।

Landing page वह पेज होता है जिस पर यूजर आपके द्वारा चलाये गए ad कैंपेन पर क्लिक करके विजिट करता है और जब यूजर को आपकी वेबसाइट का landing page अच्छा और attractive लगेगा तभी तो वह आपकी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा देर तक रुकेगा इससे आपके प्रोडक्ट के सेल होने के चांसेस ज्यादा बढ़ जायेंगे और यूजर बार-बार आपकी वेबसाइट पर विजिट करेगा। इसलिए कोशिश करें की आपकी जो वेबसाइट का landing page है बहुत अच्छा और attractive हो।

5. कैसे पता करें कि ग्राहक क्या सर्चिंग कर रहे हैं?

यह जानना आपके लिए बहुत ही जरुरी है की ग्राहक सबसे ज्यादा क्या सर्चिंग कर रहे हैं इसके लिए आप चाहे तो गूगल सर्च की मदद ले सकते है। गूगल पर आप अपने प्रोडक्ट से जुड़े कुछ की-वर्ड सर्च करते है तो आपको सर्चिंग में इससे जुड़े कुछ अन्य की-वर्ड दिखाई देंगे ये वही होते है जो कभी ना कभी लोगों द्वारा सर्च किये गए है।

  • जैसे की हमने गूगल पर “google adwords keyword” सर्च किया तो हमे इससे जुड़े कुछ सर्चेस और दिखाई दिए जैसा फोटो में दिखाई दे रहा है जो की कभी ना कभी लोगों द्वारा सर्च किये गए है आप इन की-वर्ड का उपयोग कर सकते है।

कैसे पता करें कि ग्राहक क्या सर्चिंग कर रहे हैं

  • जैसे ही आप सर्च करेंगे तो आपको नीचे “People also ask” कर के एक सर्च लिस्ट और दिखाई देगी जैसे फोटो में दिख रही है ये वही सर्चेस होते हो जो लोगों द्वारा की जाती है आप इनसे भी गूगल एड्स पर की-वर्ड चयन करने के लिए Idea ले सकते है।

कैसे पता करें कि ग्राहक क्या सर्चिंग कर रहे हैं

  • या फिर आप जब अपने प्रोडक्ट से जुड़ा कोई की-वर्ड गूगल पर सर्च करते है तब सर्च करने के बाद सबसे लास्ट में स्क्रॉल करने पर आपको “Searches related” के नाम से एक लिस्ट दिखाई देती है आप यहां से भी अपने एड्स कैंपेन के लिए गूगल एड्स पर की-वर्ड चयन करने के लिए आईडिया ले सकते है।

कैसे पता करें कि ग्राहक क्या सर्चिंग कर रहे हैं

आशा करते है की आप जागरूक पर “Google Ads पर की-वर्ड कैसे चयन करे” से जुडी इस जानकारी को समझ पाएं होंगे। हमें उम्मीद है आपको जागरूक पर हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी।

अधिक जानकारी के लिए ये भी देखें:

How To Choose Keywords For Google AdWords Step by Step

Leave a Comment