होम स्वास्थ्य नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है?

नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है?

आइये जानते हैं नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है। आपने अक्सर सुना होगा कि आयोडीन युक्त नमक का ही सेवन करना चाहिए। आइए जानते हैं नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है।

नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है?

नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है?

दरअसल आयोडीन एक ऐसा तत्व है जिसकी शरीर को बहुत कम मात्रा में आवश्यकता होती है और इसकी कमी हो जाने से थाइरॉइड ग्रंथि पर बुरा प्रभाव पड़ता है और घेंघा जैसे गंभीर रोग आयोडीन की कमी से ही होते हैं।

इसके अलावा बहरापन, भेंगापन, गूंगापन, मानसिक विकृति और शरीर के विकास में रुकावट आने जैसी समस्याएं भी आयोडीन की कमी से ही होती हैं।

हमारे शरीर में आयोडीन की काफी अल्प मात्रा मौजूद होती है यानि 10-12 मिलीग्राम। लेकिन अगर ये अल्प मात्रा शरीर को ना मिले तो जीवित रहना संभव नहीं है।

आयोडीन बच्चों, युवाओं और गर्भवती महिलाओं के लिए अति आवश्यक तत्व है। ये हमारे शरीर और दिमाग की वृद्धि, विकास और क्रियाओं के संचालन के लिए बेहद ज़रूरी होता है।

आयोडीन का सेवन करने से तनाव दूर होता है और मन शांत होता है, साथ ही मस्तिष्क की सक्रियता भी बनी रहती है और बाल, नाखून, दांत और त्वचा को बेहतर स्थिति में रखने का कार्य भी आयोडीन करता है।

जीवनभर में आयोडीन की एक छोटे चम्मच से भी कम मात्रा की आवश्यकता होती है यानि रोज़ाना सुई की नोंक के बराबर आयोडीन लिया जाये तो इस आवश्यक तत्व की पूर्ति की जा सकती है।

नमक में आयोडीन मिलाया जाता है ताकि आयोडीन की निश्चित मात्रा प्रतिदिन लिए जाने वाली नमक की मात्रा के साथ शरीर में पहुँच सके और शरीर में आयोडीन की कमी ना हो।

नमक का सेवन प्रत्येक व्यक्ति द्वारा रोज़ाना किया जाता है और आयोडीन की निश्चित मात्रा भी शरीर को हर रोज़ मिलनी ज़रूरी होती है इसलिए नमक में आयोडीन मिला दिया जाता है जिससे हर रोज़ आयोडीन की आवश्यक खुराक शरीर को मिलती रहे और शरीर स्वस्थ रहे।

ये नमक स्वाद और रंग में सामान्य नमक जैसा ही होता है और इसका प्रयोग भी साधारण नमक की तरह ही किया जाता है। आयोडीन से भरपूर खाद्य पदार्थों में केवल कुछ समुद्री वनस्पतियां ही आती है जिनमें आयोडीन की प्रचुर मात्रा पायी जाती है जबकि अन्न और सब्ज़ियों में आयोडीन मिट्टी से आता है।

अगर मिट्टी में आयोडीन की कमी हो तो हमारे शरीर को किसी भी खाद्य पदार्थ से आयोडीन नहीं मिल पायेगा और इसी कारण आयोडीन की आवश्यक मात्रा की पूर्ति हर दिन हो सके इसलिए इसे नमक में मिला दिया जाता है।

उम्मीद है जागरूक पर नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

202,340फैंसलाइक करें
4,238फॉलोवरफॉलो करें
496,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest posts.

Latest Posts

नमक में आयोडीन क्यों मिलाया जाता है?

यीशु मसीह कौन है?

आइये जानते हैं यीशु मसीह कौन है। यीशु मसीह या जीसस क्राइस्ट ईसाई धर्म के प्रवर्तक हैं जिन्हें ईसाई धर्म के लोग परमपिता परमेश्वर...