सिगरेट क्यों नहीं छोड़ पाते हैं?

आइये जानते हैं सिगरेट क्यों नहीं छोड़ पाते हैं। हम सब जानते हैं कि धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इससे हमारी जान भी जा सकती है। इसके बावजूद लाखों लोग अपनी सिगरेट पीने की आदत को छोड़ नहीं पा रहे हैं जबकि हर साल हजारों लोग सिगरेट पीने की आदत डालते है।

हम तनाव में आने और भावनात्मक रूप से कमजोर पड़ने पर सिगरेट का सहारा लेते हैं। इससे काफी हद तक आपका टेंशन रिलीज होता है और आप हल्का महसूस करते हैं। धीरे-धीरे हमें सिगरेट की ऐसी लत लग जाती है कि यह हमारे जीवन का हिस्सा बन जाती है और हम सिगरेट पीने के आदी बनते चले जाते हैं।

अमेरिका में सिगरेट पीने से सबसे अधिक मौतें होती हैं सीडीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार यहां मोटापा, एल्कोहॉल और एक्सीडेंट की तुलना में सिगरेट पीने से ज्यादा लोगों की मौत होती है। स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हुए भी हम सिगरेट क्यों नहीं छोड़ पाते हैं? आइए जानें।

सिगरेट क्यों नहीं छोड़ पाते हैं?

एंग्जायटी – सिगरेट में निकोटिन होता है और यह कृत्रिम रूप से अधिक मात्रा में डोपामिन और सेरोटोनिन उत्पन्न करता है जिससे की तनाव दूर होता है। हालांकि इसका असर सिर्फ बीस से तीस मिनट तक ही रहता है।

इससे व्यक्ति को कैंसर भी हो सकता है और असमय उसकी मौत भी हो सकती है। यह जानते हुए भी हम चिंता मुक्त होने के लिए सिगरेट का सहारा लेते हैं और इसे छोड़ नहीं पाते हैं।

परेशानियां – आपके खर्चे लगातार बढ़ते जा रहे हैं और आए दिन आप बिल भरने में ही व्यस्त रहते हैं और अपने पैसे नहीं बचा पाते हैं। आप आर्थिक दिक्कतों से जूझ रहे हैं।

कभी आपकी गाड़ी खराब हो जाती है तो कभी आप जॉब बदलते हैं। जीवन में यह परेशानियां हमेशा बनी रहती हैं और आप स्ट्रेस में रहते हैं और इससे जूझने के लिए सिगरेट का सहारा लेते हैं।

आदत – आपको कई सालों से सिगरेट पीने की आदत पड़ी हुई है। अगर आप सिगरेट नहीं पीते हैं तो आपकी दिनचर्या प्रभावित होती है और काम में मन नहीं लगता है।

सिगरेट आपके हाथ और दिमाग दोनों को बिजी रखता है और सुकून प्रदान करता है तब आपके लिए सिगरेट छोड़ना कठिन हो सकता है।

जब आप सिगरेट पीने वालों से घिरे हों – आपके आसपास के लोग जैसे आपके दोस्त, परिवार, रूममेट, रिश्तेदार हर जगह सिगरेट पीने वाले लोग होते हैं तब सिगरेट छोड़ने में मुश्किल होती है।

प्लानिंग नहीं बनाते – आप सिगरेट तो छोड़ना चाहते हैं लेकिन इसे छोड़ने की प्लानिंग नहीं बनाते हैं। आप चाहें तो सिगरेट की लत लगने पर च्युंगम या कुछ भी चबाकर अपने मुंह को व्यस्त रख सकते हैं लेकिन यह करना आपको ज्यादा कठिन लगता है इसलिए आप सिगरेट नहीं छोड़ पाते हैं।

काम का तनाव – काम के तनाव को दूर करने के लिए आप सिगरेट पीने लगते हैं। धीरे-धीरे आपको यकीन होने लगता है कि तनाव से दूर रखने और ब्रेनवॉश के लिए सिगरेट से अच्छा कोई दूसरा उपाय नहीं है। इससे चीजें और बदतर होती जाती हैं और तब आप लाख कोशिशों के बाद भी सिगरेट नहीं छोड़ पाते हैं।

एक दिन मरना है – सच तो यह है कि इच्छा की कमी के कारण भी आप सिगरेट नहीं छोड़ पाते हैं। आप सोचते हैं एक दिन तो सबको मरना है और यह बात आपके दिमाग में ऐसे घर कर जाती है कि आप सिगरेट से होने वाले नुकसान को भूल जाते हैं और सिगरेट छोड़ने का ख्याल आपके दिमाग में नहीं आता है।

आपको कोई चिंता नहीं है – आप कई सालों से सिगरेट पीते आ रहे हैं लेकिन अभी तक आपको कैंसर या कोई अन्य स्वास्थ्य समस्या नहीं हुई है तो आपको सिगरेट छोड़ने की चिंता ही नहीं होती है। आप इसके इतने आदी होते हैं कि सिगरेट पीने के लिए तरसते रहते हैं।

उम्मीद है जागरूक पर सिगरेट क्यों नहीं छोड़ पाते हैं कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

Leave a Comment