Home » शिक्षा » जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी

आज जागरूक पर आपको जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी देंगे जो भारत में बहुत ही विख्यात है। यह यूनिवर्सिटी भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है। इस यूनिवर्सिटी में आपके पसंदीदा सुपरस्टारों के साथ-साथ कई प्रशिद्ध नेताओं ने शिक्षा ग्रहण की है।

जामिया मिलिया इस्लामिया (राष्ट्रीय इस्लामी विश्वविद्यालय) दिल्ली में स्थित भारत का एक प्रमुख सार्वजनिक विश्‍वविद्यालय है। जिसे केन्द्रीय विश्‍वविद्यालय का स्तर हासिल है। यह विश्‍वविद्यालय नई दिल्ली के दक्षिणी क्षेत्र के ओखला में यमुना किनारे स्थित हैं। इस विश्‍वविद्यालय को 1920 में ब्रिटिश शासन के दौरान स्थापित किया गया था।

1988 में इसे भारतीय संसद के एक अधिनियम द्वारा केंद्रीय विश्वविद्यालय बना दिया गया। इस विश्वविद्यालय को डिजाइन करने का श्रेय दिल्ली के “सर सरवर जंग” को जाता है।

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी का इतिहास

  • मुस्लिम नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा भारत की स्वतंत्रता से पहले 1920 में इस विश्वविद्यालय की स्थापना की गई थी।
  • इन संस्थापक नेताओं में से अली ब्रदर्स के नाम से मशहूर “मुहम्मद अली जौहर और शौकत अली” मुख्य नेता थे।
  • दिसंबर 1988 में जामिया मिलिया इस्लामिया अधिनियम 1988 (1988 का संख्या 59) के तहत जामिया यूनिवर्सिटी को संसद द्वारा केंद्रीय विश्वविद्यालय की उपाधि दी गई थी।
  • सऊदी अरब के सुल्तान अब्दुल्ला बिन अल सऊद ने 2006 में इस विश्वविद्यालय की यात्रा की और इसमें पुस्तकालय के निर्माण हेतु 30 मिलियन डॉलर का डोनेशन दिया। अब यह पुस्तकालय डॉ. जाकिर हुसैन लाइब्रेरी (सेंट्रल लाइब्रेरी) के रूप में जाना जाता है।

जामिआ यूनिवर्सिटी से जुड़ी जानकारी

आइये जानते है इस यूनिवर्सिटी से जुड़ी कुछ जानकारियां-

  • मोहम्मद अली जौहर जामिया यूनिवर्सिटी के पहले कुलगुरू बने।
  • 1927 में ज़ाकिर हुसैन ने अपने आखिरी समय में इस विश्वविद्यालय को संभाला और सभी कठिनाइयों के माध्यम से इसे निर्देशित किया।
  • ज़ाकिर हुसैन की मृत्यु के पश्चात उन्हें विश्वविद्यालय के परिसर में ही दफनाया गया जहां उनका मकबरा जनता के लिए खुला रहता है।
  • इसके पश्चात मुख्तार अहमद अंसारी कुलपति बन गए और इस विश्वविद्यालय के मुख्य सभागार और स्वास्थ्य केंद्र का नाम उनके नाम पर रखा गया है।
  • महमूद अल-हसन, अब्दुल मजीद ख्वाजा, आबिद हुसैन, हकीम अजमल ख़ान, मोहम्मद मुजीब इन सभी के नेतृत्व में जामिया यूनिवर्सिटी एक डीम्ड विश्वविद्यालय (भारत में उच्च शिक्षण संस्थानों से सम्मानित मान्यता प्राप्त) बन गया।

जामिआ यूनिवर्सिटी में फैकल्टी विभाग

जामिया मिलिया इस्लामिया में कई प्रकार के संकाय हैं जिसके तहत यह अकादमिक और विस्तार कार्यक्रम प्रदान करता है। यह संकाय इस प्रकार है-

  1. बी. ए. एलएलबी (ऑनर्स) और एलएलएम
  2. इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संकाय
  3. वास्तुकला और एकता के संकाय
  4. हुमनिटीज़ और भाषाओं के फैकल्टी
  5. ललित कला संकाय
  6. सामाजिक विज्ञान के फैकल्टी
  7. प्राकृतिक विज्ञान के संकाय
  8. शैक्षणिक अध्ययन इत्यादि

जामिआ यूनिवर्सिटी के उल्लेखनीय व प्रसिद्ध पूर्व छात्र

इस यूनिवर्सिटी से शिक्षा ग्रहण करने वालो की सूची में आपके पसंदीदा कई बॉलीवुड सुपरस्टार से लेकर कई नेता भी शामिल है।

इस यूनिवर्सिटी के उल्लेखनीय पूर्व छात्रों की सूचि में बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान, भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग, फिल्म निर्देशक कबीर खान, फिल्म निर्माता/ निर्देशक/ अभिनेत्री किरण राव, फिल्म निर्देशक डेनिश असलम, रेडियो जॉकी/ फिल्म निर्देशक रोशन अब्बास, फिल्म लेखक/ निर्देशक हबीब फैसल, अंतरराष्ट्रीय हॉकी प्लेयर गगन अजित सिंह, मॉडल/ अभिनेता मुज़मिल इब्राहिम, फिल्म निर्देशक लवलीन टंडन, लेखक/ अभिनेता ज़ीशान क़ादरी जैसे कई दिग्गजों के नाम शामिल है।

भारत में जामिआ यूनिवर्सिटी काफी विख्यात है इसमें अध्ययन करने हेतु देश-विदेश से कई विद्यार्थी आते है। हमे आशा है जामिआ यूनिवर्सिटी से जुडी यह रोचक जानकारी आपको पसंद आयी होगी।

बायोटेक्नोलॉजी क्या है?

References:

राष्ट्रीय इस्लामी विश्वविद्यालय