Home » स्वास्थ्य » ज्यादा नींद आने की समस्या से कैसे पाएं छुटकारा

ज्यादा नींद आने की समस्या से कैसे पाएं छुटकारा

आइये जानते हैं अगर आपको ज्यादा नींद आती है तो आप क्या करें (jyada neend aane ki samasya)। एक अच्छी नींद आना स्वस्थ शरीर की निशानी होती है और आप ये भी जानते हैं कि नींद न आना शरीर के लिए काफी नुकसानदेह साबित होता है। लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि जरुरत से ज्यादा नींद भी आपके शरीर को बहुत नुकसान पहुँचाती है।

ज्यादा नींद आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे दिनचर्या का असंतुलित होना, एक बार में पर्याप्त नींद नहीं ले पाना और मन का एकाग्र न होना या फिर डायबिटीज होना। इनमें से ज्यादा नींद आने का कारण भले ही कोई भी हो लेकिन इससे होने वाले नुकसान एकसमान ही होते हैं।

ज्यादा नींद लेने से दिमाग की कार्यप्रणाली बाधित होती है, याददाश्त कम होने लगती है, सोचने समझने की शक्ति पर प्रभाव पड़ता है। दिल की सेहत के लिए भी ये अच्छा संकेत नहीं होता है।

इसके अलावा ज्यादा नींद लेने से मोटापा भी बढ़ता जाता है और साथ में सिरदर्द और कमरदर्द जैसी शिकायतें भी आम बात हो जाती हैं। ऐसे में ये जान लेना ज़रूरी है कि ज्यादा नींद आने की स्थिति में क्या किया जाना चाहिए।

ज्यादा नींद आने की समस्या से कैसे पाएं छुटकारा (jyada neend aane ki samasya)

मसालेदार भोजन से परहेज़ करें – तीखा और मसालेदार भोजन देखने में और खाने में भले ही ज़ायके से भरपूर होता हो लेकिन ये शरीर को नुकसान भी पहुंचाता है।

अगर आप ज़्यादा नींद आने की मुश्किल से परेशान है तो इसे दूर करने के लिए आपको तीखे, चटपटे मसालेदार व्यंजनों से दूरी बना कर रखनी होगी।

अधिक वसायुक्त भोजन न खाएं – ज़्यादा वसायुक्त भोजन शरीर को हानि पहुंचाता है और ज़्यादा नींद आने की स्थिति भी उत्पन्न करता है। इसलिए ऐसे वसायुक्त भोजन की मात्रा अपने आहार में कम करते जाये।

ताज़ा भोजन करने की आदत डालें – कई बार ऐसा होता है कि खाना बनने के काफी समय बाद उसे खाया जाता है जिसकी वजह से खाना ठंडा हो जाता है और कई बार तो खाना फ्रिज से निकाल कर खाया जाता है।

ऐसा खाना सेहत नहीं बनाता है बल्कि ज़्यादा नींद का कारण भी बनता है और इसके कारण शरीर को कई दिक्कतें भी उठानी पड़ती है। इसलिए खाना पकने के 2 घंटे के अंदर ही उसे खा लें।

इसके अलावा डिब्बाबंद खाने की चीज़ों से भी परहेज़ करें क्योंकि ये आलस को बढ़ाती हैं और मानसिक फुर्ती और सजगता में भी कमी लाती हैं।

रात में हल्का भोजन करें – सुबह के नाश्ते से लेकर रात के खाने तक अगर आप भारी भोजन करेंगे तो शरीर का सुस्त होना और ज़्यादा नींद आना स्वाभाविक ही है।

लेकिन अगर आप ज्यादा आने वाली नींद को कम करना चाहते हैं तो रात को हल्का भोजन करना शुरू कीजिये, साथ ही भोजन का पौष्टिक होना तो हर स्थिति में जरुरी है ही।

विटामिन-सी का सेवन कीजिये – मौसमी, संतरा और नींबू विटामिन-सी के अच्छे स्रोत हैं। अपनी डाइट में विटामिन-सी की प्रचुरता करके आप ज्यादा नींद आने की समस्या में राहत पा सकते हैं।

वज्रासन करिये – रोज़ सुबह वज्रासन में बैठने से ज़्यादा नींद आने की समस्या में आपको राहत मिलने लगेगी। आपका मन एकाग्र भी होने लगेगा।

शायद अब तक आप ये मानते हों कि नींद जितनी ली जाए, उतनी सेहत के लिए अच्छी ही रहती है। इसी सोच के चलते आप ज़्यादा सोना पसंद करने लगे हो और देखते ही देखते ये आपकी आदत बन गयी हो।

लेकिन अब आप ये जान चुके है कि हर अति की तरह नींद की अति भी अच्छी नहीं होती। इस आदत को बदलना भी आपके अपने हाथ में है।

तो बस, देर किस बात की…आज ही से स्वयं को ज़्यादा नींद आने की इस समस्या से मुक्त करना शुरू कर दीजिये। जल्द ही आप इसमें पूरी तरह सफल भी हो जायेंगे और स्वस्थ सेहत और पर्याप्त नींद का लाभ उठा पाएंगे।

उम्मीद है जागरूक पर ज्यादा नींद आने की समस्या से कैसे पाएं छुटकारा (jyada neend aane ki samasya) कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिनचर्या कैसी होनी चाहिए?

जागरूक यूट्यूब चैनल