कागज का आविष्कार किसने और कब किया?

Spread the love

कागज का इस्तेमाल तो आज पूरी दुनिया में हो रहा है लेकिन क्या आपको कागज के इतिहास के बारे में पता है की कागज का आविष्कार किसने, कब और कैसे किया (Kagaj ka avishkar kisne kiya)? भारत में कागज का इस्तेमाल कब से शुरू हुआ? आज हम आपको कागज के इतिहास की पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

आज कागज के बिना हमारे सभी काम अधूरे हैं, चाहे बच्चों की पढाई हो या बैंक, व्यापार, ऑफिस आदि का काम सभी कागज बिना संभव नहीं हैं। कागज को बनाने में घास फूंस, लकड़ी, कच्चे माल, सेलुलोज-आधारित उत्पाद का इस्तेमाल होता है।

कागज का आविष्कार किसने और कब किया? (Kagaj ka avishkar kisne kiya)

कागज का आविष्कारक चीन को माना जाता है क्योंकि सबसे पहले कागज का इस्तेमाल चीन में ही किया गया था। (Kagaj ka avishkar kis desh me hua tha)

कागज का आविष्कार करने वाले शख्स का नाम है काई लुन (Cai Lun) जो चीन के रहने वाले थे। इन्होने 202 ई.पू. हान राजवंस के समय में कागज का आविष्कार किया था।

Cai Lun द्वारा किये गए कागज के आविष्कार से पहले लेखन के लिए आम तौर पर बांस या रेशम के टुकड़े काम में लिए जाते थे लेकिन परेशानी ये थी की रेशम काफी महंगा था और बांस काफी भारी होता था।

इसके बाद Cai Lun ने ऐसा कागज बनाने की सोची जो सस्ता हो और लेखन में आसान हो। उस समय Cai Lun ने भांग, शहतूत, पेड़ के छाल तथा अन्य तरह के रेशो की सहायता से कागज का निर्माण किया था।

ये कागज चमकीला, मुलायम, लचीला, और चिकना होता था। इसके बाद कागज का इस्तेमाल धीरे धीरे पूरी दुनिया में होने लगा। इस उपयोगी आविष्कार के कारण ही Cai Lun को “कागज का संत” भी बोला जाता है।

भारत में कागज की खोज

ये बात तो स्पष्ट हो गई की कागज का आविष्कार (kagaj ka aviskar) चीन में हुआ लेकिन चीन के बाद भारत ही वो देश है जहाँ कागज बनाने और इस्तेमाल किये जाने के प्रमाण मिले।

सिंधु सभ्यता के दौरान भारत में कागज के निर्माण और उपयोग के कई प्रमाण सामने आये हैं जिनसे ये साबित होता है की चीन के बाद भारत में ही सर्वप्रथम कागज का निर्माण और उपयोग हुआ।

ऐसा माना जाता है की इस खोज के बाद से ही पूरी दुनिया में कागज का इस्तेमाल व्यापक रूप में होने लगा था।

भारत मे कागज के उद्योग

  • भारत में कागज बनाने की सबसे पहली मिल कश्मीर मे लगाई गई थी जिसे वहां के सुल्तान जैनुल आबिदीन ने स्थापित किया था।
  • सन 1887 मे भी कागज बनाने वाली मिल स्थापित की गई थी जिसका नाम था टीटा कागज मिल्स लेकिन ये मिल कागज बनाने में असफल रही।
  • आधुनिक कागज का उद्योग कलकत्ता मे हुगली नदी के तट पर बाली नामक स्थान पर स्थापित किया गया।

उम्मीद है जागरूक पर कागज का आविष्कार किसने और कब किया (Kagaj ka avishkar kisne kiya, kagaj ka aviskar kisne kiya tha) कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

जागरूक यूट्यूब चैनल

Leave a Comment