मुद्रा लोन योजना क्या है?

14

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के बारे में आपने भी जरूर सुना होगा और शायद थोड़ी जानकारी भी आप रखते हों लेकिन ये योजना क्या है, किसके लिए है और इससे लाभ कैसे लिया जा सकता है।

इस तरह की सभी जानकारी हम आज आपको देते हैं ताकि आप इस योजना को समझ पाएं और अगर आप इस योजना के दायरे में आते हैं तो जानकारी के अभाव में इसका लाभ लेने से भी चूके नहीं। तो चलिए, आज जानते हैं मुद्रा लोन योजना के बारे में।

मुद्रा लोन योजना क्या है?

ऐसे लोग जो अपना बिजनेस तो शुरू करना चाहते हैं लेकिन उनके पास पर्याप्त धन नहीं है। ऐसे लोगों के लिए ये योजना राहत लेकर आयी है क्योंकि ये योजना छोटे उद्यमियों को आसानी से कर्ज उपलब्ध करवाने की सरकारी योजना है।

अप्रैल 2015 में शुरू की गयी इस योजना का पूरा नाम (MUDRA- Micro Units Development Refinance Agency) है। इस योजना के तहत छोटे उद्योगों के लिए वित्तीय सहायता दी जाती है।

मुद्रा लोन योजना के उद्देश्य

केंद्र सरकार की मुद्रा योजना के दो उद्देश्य हैं-

पहला उद्देश्य – स्वरोजगार के लिए लोन की सुविधा देना क्योंकि जब सरकार से आसानी से लोन मिलेगा तो लोग बड़े स्तर पर स्वरोजगार के लिए प्रेरित होंगे। ऐसा होने पर बड़े स्तर पर रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे।

दूसरा उद्देश्य – छोटे उद्यमों के माध्यम से रोजगार का सृजन करना क्योंकि अपना उद्यम शुरू करने के लिए लोग बैंक से लोन लेने से कतराते हैं। ऐसे में छोटे उद्यम विकसित नहीं हो पाते हैं।

इस योजना में महिलाओं और अनुसूचित जाति/जनजाति के आवेदकों को प्राथमिकता दी गयी है।

मुद्रा योजना का लाभ क्या है?

इस योजना के तहत बिना गारण्टी के लोन मिलता है। साथ ही लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं देना होता है। इस लोन को चुकाने की समय सीमा को भी 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है।

इस योजना का लाभ लेने वाले उद्यमी को एक मुद्रा कार्ड मिलता है जिससे व्यवसाय में जरुरत पड़ने पर खर्चा किया जा सकता है।

मुद्रा योजना से लोन लेने के लिए क्या करना होगा?

खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए अगर आप मुद्रा योजना से लोन लेना चाहें तो इसके लिए आपको सरकारी बैंक की शाखा में आवेदन करना होगा।

इस प्रक्रिया में आपको अपने मकान के मालिकाना हक या किराये के दस्तावेज, आधार और पैन नम्बर, काम से जुड़ी जानकारी जैसे दस्तावेज जमा कराने होंगे।

इस दौरान बैंक का ब्राँच मैनेजर आपके काम से जुड़ी जानकारी लेता है और आपके काम की प्रकृति के अनुसार आपसे एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनवाने के लिए भी कहा जा सकता है।

मुद्रा योजना में कितना लोन मिल सकता है?

इस योजना के तहत मिलने वाली लोन की राशि अधिकतम 10 लाख रूपये हो सकती है।

मुद्रा योजना में कितने प्रकार के लोन दिए जाते हैं?

इस योजना में तीन प्रकार के लोन दिए जाते हैं-

  • शिशु लोन – इसके तहत 50,000 रुपये तक का लोन दिया जाता है।
  • किशोर लोन – इसके तहत 50,001 से 5 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है।
  • तरुण लोन – इसके तहत 500,001 (5 लाख 1 रुपये) से 10 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है।

मुद्रा लोन की ब्याज दर क्या होती है?

मुद्रा लोन योजना के तहत दिए जाने वाले लोन पर ब्याज दर निश्चित नहीं है। हर बैंक द्वारा ली जाने वाली ब्याज दर अलग-अलग होती है और ये ब्याज दरें व्यवसाय की प्रकृति और उससे जुड़े जोखिम पर निर्भर करती है। सामान्य तौर पर मुद्रा लोन पर न्यूनतम ब्याज दर सालाना 10-12 % होती है।

अब आपके पास मुद्रा लोन योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां आ गयी है इसलिए अगर ये आपके सपनों को पूरा करने में मदद कर सकती है तो तुरंत इसका लाभ उठायें।

उम्मीद है कि जागरूक पर ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए उपयोगी भी साबित होगी।

ऑनलाइन सामान कैसे बेचे?

जागरूक यूट्यूब चैनल