नोबेल पुरस्कार क्या है?

आज हम आपको बहुत ही रोचक और महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं जो नोबेल पुरस्कार के बारे में हैं। नोबेल पुरस्कार भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान, शांति, साहित्य और अर्थशास्त्र इन 6 क्षेत्रों में विश्व का सर्वोच्च पुरस्कार है। नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) को पूरे विश्व में सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में गिना जाता है।

इस पुरस्कार के विजेता को एक मेडल, एक डिप्लोमा और एक मोनेटरी अवार्ड दिया जाता है और इसमें विजेता को लगभग 7 करोड़ 22 लाख रुपये मिलते हैं। इस पुरस्कार के शुरू होने के पीछे एक गलत खबर थी जिसे अखबार में छापा गया था। चलिए जानते है नोबेल पुरस्कार शुरू होने के पीछे की घटना।

नोबेल पुरस्कार शुरू होने के पीछे की घटना

यह पुरस्कार यह वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में नोबेल फाउंडेशन द्वारा दिया जाता है। इस पुरस्कार को शुरू करने के पीछे सन 1888 में एक अखबार में छपी गलत खबर थी जिसमें यह छापा गया था की “मौत के सौदागर की मृत्यु” अर्थात अल्फ्रेड नोबेल की मृत्यु हो गयी है।

अल्फ्रेड नोबेल के डाइनामाइट का आविष्कार को हज़ारो लोगों की मौत का कारण बताया गया था और इस खबर ने अल्फ्रेड नोबेल को अंदर तक बुरी तरह से झकझोर दिया था।

तब अल्फ्रेड नोबेल निश्चय किया की वे अपने ऊपर लगे इस दाग को मिटाने के लिए अपनी संपत्ति का बड़ा हिस्सा ट्रस्ट के लिए देंगे और उन्होंने 27 नवंबर 1895 अपनी संपत्ति का बड़ा हिस्सा ट्रस्ट के लिए अलग कर दिया।

उनकी इस संपत्ति को ट्रस्ट में देने के पीछे यही इच्छा थी की इन पैसों की ब्याज से उन लोगों का सम्मान किया जाये जिनका काम भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान, शांति, साहित्य और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में मानव जाति के लिए कल्याणकारी पाया जाए।

कौन थे अल्फ्रेड नोबेल?

अल्फ्रेड नोबेल को नोबेल पुरस्कार शुरू करने के लिए जाना जाता है। अल्फ्रेड नोबेल का जन्म 1833 में स्टॉकहोम (स्वीडन) में हुआ था। अल्फ्रेड नोबेल को डायनामाइट के आविष्कार के लिए भी जाने जाते हैं।

18 साल की उम्र में अल्फ्रेड रसायन की पढ़ाई के लिए अमेरिका चले गए इसके बाद उन्होंने 1867 में डाइनामाइट की खोज की थी। नोबेल की जिज्ञासु प्रवृत्ति और तकनीक में रूचि होने के कारण उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी में कुल 355 आविष्कार (innovations) किए थे।

डायनामाइट आविष्कार ने अल्फ्रेड नोबेल को सबसे ज्यादा नाम और शोहरत दिलाई। 10 दिसंबर 1896 अल्फ्रेड नोबेल की मृत्यु इटली में दिल का दौरा पड़ने से हुई थी, उन्होंने अपने जीवन में शादी नहीं की थी।

क्या है नोबेल फाउंडेशन?

नोबेल फाउंडेशन नोबेल पुरस्कारों का आर्थिक रूप से संचालन करता है। नोबेल फाउंडेशन 5 लोगों की टीम होती है। नोबेल फाउंडेशन की स्थापना 29 जून 1900 में हुई थी और नोबेल पुरस्कार 1901 से दिया जाने लगा था।

नोबेल फाउंडेशन का मुखिया स्वीडन के किंग ऑफ कॉउन्सिल द्वारा तय किया जाता है बाकि के 4 अन्य सदस्य पुरस्कार वितरक ट्रस्टियों द्वारा चुने जाते है। पुरस्कार के लिए चुने हुए विजेताओं को स्वीडन के राजा द्वारा अल्फ्रेड नोबेल की पुण्य तिथि (Death Anniversary) 10 दिसंबर को सम्मानित किया जाता है।

उम्मीद है जागरूक पर ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

वैज्ञानिक कैसे बनें?

जागरूक यूट्यूब चैनल