Home » स्वास्थ्य » ओमेगा-3 के नुकसान

ओमेगा-3 के नुकसान

आइये जानते हैं ओमेगा-3 के नुकसान। शरीर में मौजूद वसा के कई रूप होते हैं। उन्हीं में से एक रूप है ओमेगा-3, जो शारीरिक और मानसिक विकास में सहायक बनता है। ये ओमेगा-3 फैटी एसिड हमारे शरीर के लिए जरुरी फैटी एसिड्स में से एक है।

हमारा शरीर इस एसिड को नहीं बना पाता है इसलिए इसे आहार के ज़रिये लिया जाता है। ओमेगा-3 मुख्य रूप से 3 प्रकार का होता है।

  1. एएलए – अल्फा लिनोलेनिक एसिड
  2. डीएचए – डोकोसाहेक्साएनोइक एसिड
  3. ईपीए – ईकोसापेन्टेनेनोइक एसिड

इनमें से एएलए पौधों में मिलता है जबकि डीएचए और ईपीए मांसाहार में मौजूद होता है।

ओमेगा-3 के नुकसान

ओमेगा-3 दिल से जुड़े रोगों की सम्भावना को कम करता है, तनाव और अवसाद से मुक्ति दिलाता है, आँखों की रोशनी बढ़ाता है और अल्ज़ाइमर जैसे रोगों के ख़तरे को कम करता है लेकिन इतने गुणों से भरपूर ओमेगा-3 फैटी एसिड के सेवन से शरीर को कई नुकसान भी हो सकते हैं जैसे-

रक्तस्राव का ख़तरा – ओमेगा-3 के अनुचित सेवन से रक्तस्राव का ख़तरा बढ़ सकता है और रक्त के पतले हो जाने की समस्या भी हो सकती है।

आँतों को नुकसान पहुँच सकता है – ओमेगा-3 का सेवन करने से आँतों से सम्बंधित समस्याएं भी हो सकती है। इसे सप्लीमेंट्स के रूप में लेने पर एसिडिटी, डकार आना, दस्त, पेट फूलना और सीने में जलन जैसी तकलीफें हो सकती हैं।

ब्लड प्रेशर लो हो सकता है – ओमेगा-3 सप्लीमेंट्स का सेवन बीपी को लो भी कर सकता है इसलिए ब्लड प्रेशर की दवा लेने वाले लोगों को इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सुझाव जरूर लेना चाहिए।

ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है – ओमेगा-3 से भरपूर मछली के तेल से बनी दवाओं का सेवन करने से शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। डायबिटीज पेशेंट्स को ओमेगा-3 लेने में सावधानी बरतनी चाहिए।

सिर्फ ये सोचकर ओमेगा-3 का सेवन नहीं करना चाहिए कि इसका सेवन करने से शरीर को बहुत से फायदे होते हैं क्योंकि इससे होने वाले नुकसान भी शरीर को बहुत हानि पहुंचा सकते हैं इसलिए ओमेगा-3 युक्त आहार या सप्लीमेंट्स का सेवन सीमित मात्रा में, डॉक्टर से परामर्श करके ही करना चाहिए।

उम्मीद है जागरूक पर ओमेगा-3 के नुकसान कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

Leave a Comment