Home » ऑनलाइन बिजनेस » ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है? – What is online marketing?

ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है? – What is online marketing?

आज आपको बताएंगे की ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है और ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे की जाती है तथा इसके क्या फायदे है? हर बिजनेसमैन का यह सपना होता है की उसके कस्टमर ज्यादा से ज्यादा हो और वह अपने बिज़नेस के लक्ष्य को प्राप्त कर सके चाहे बिज़नेस छोटा हो या बड़ा। अपने इस सपने को और बिज़नेस को सफल बनाने के लिए हर प्रयास करता है।

आज हम आपको मार्केटिंग का एक ऐसा तरीका बतायेंगे जिससे आप अपने बिज़नेस और प्रोडक्ट की बेहतर मार्केटिंग कर सकते है और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपने बिज़नेस और प्रोडक्ट की जानकारी पहुँचा सकते है। इसका नाम है ऑनलाइन मार्केटिंग।

ऑनलाइन मार्केटिंग आज सबसे ज्यादा पॉपुलर मार्केटिंग का तरीका है हर कोई अपने बिज़नेस, प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग का सहारा लेता है। आप भी अपने प्रोडक्ट को सेल करने के लिए व प्रमोशन करने के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग का उपयोग कर सकते है।

आइये जागरूक के माध्यम से इन सभी के बारे में विस्तार से जाने:-

  1. ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है?
  2. ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करें?
  3. ऑनलाइन मार्केटिंग के क्या फायदे है?
  4. ऑनलाइन मार्केटिंग क्यों जरुरी है?
  5. ऑनलाइन मार्केटिंग के क्या नुकसान हैं?

1. ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है? (What is online marketing?)

ऑनलाइन मार्केटिंग जैसा कि नाम से ही मालूम होता है की यह इंटरनेट से ही जुड़ा होगा, अपने बिज़नेस, सर्विस, ब्रांड्स व प्रोडक्ट को इंटरनेट के जरिये ऑनलाइन लोगों तक पहुँचाकर अधिक से अधिक सेल करना ही ऑनलाइन मार्केटिंग कहलाता है।

अपने बिज़नेस को बढ़ाने और अपने ब्रांड व प्रोडक्ट्स की वैल्यू को बढ़ाने के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग एक आधुनिक तरीका है। जब भी कोई व्यक्ति अपने किसी नये बिज़नेस या फिर अपने किसी नये प्रोडक्ट व ब्रांड्स, सर्विस को मार्केट में लॉन्च करना चाहती है तो उसके बिज़नेस व प्रोडक्ट को सफल बनाने के लिए सबसे जरूरी होता है उस बिज़नेस व प्रोडक्ट की मार्केटिंग करना जिसे वो मार्केट में लॉन्च करना चाहता है। लेकिन सबसे बड़ी परेशानी तो यही आती है की ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे की जाए? क्योंकि यही एक ऐसा तरीका है जिससे आप अपने बिज़नेस व प्रोडक्ट को ज्यादा से ज़्यादा लोगों तक बड़ी आसानी से पहुचा सकते है।

अब आप सोच रहे होंगे की ऑनलाइन मार्केटिंग से पहले अपने बिज़नेस व प्रोडक्ट की मार्केटिंग कैसे करते थे तो आपको बता दें की ऑनलाइन मार्केटिंग से पहले लगभग हर कंपनी अपने मार्केटिंग कैंपेन चलाने के लिए TV, न्यूज़पेपर, मैगज़ीन, रेडियो, पोस्टर और बैनर आदि जैसे संसाधनों का इस्तेमाल करती थी। लेकिन अब आज के इस इंटरनेट की आधुनिक दुनिया में सब कुछ डिजिटल हो गया है और इसी के साथ-साथ मार्केटिंग के भी नए-नए तरीके भी आ गए है और जो सबसे ज्यादा पॉपुलर है वह है “ऑनलाइन मार्केटिंग”।

आज के इस दौर में हर कोई सोशल मीडिया, इंटरनेट, मोबाइल इत्यादि इन सबका बहुत ज्यादा उपयोग करता है और अपना सबसे ज्यादा टाइम इन्ही पर बीताता है इसलिए अपने बिज़नेस व प्रोडक्ट्स, ब्रांड्स की मार्केटिंग करने के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग का उपयोग किया जाता है।

2. ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करें? (How to do online marketing?)

हम सब अच्छे से जानते है कि किसी भी कंपनी के लिए मार्केटिंग कितनी जरूरी होती है। और मार्केटिंग के लिए तो बहुत सी कंपनियां अपना अलग से बजट भी तैयार करती है। अगर बात करें ऑफलाइन मार्केटिंग की तो यह काफी महंगा होता है। जबकि ऑफलाइन के मुकाबले ऑनलाइन मार्केटिंग सस्ता होने के साथ-साथ काफी लाभदायक भी सिद्ध होता है। तो चलिए जानते है की ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करें-

1. Display ads

इसमें हम अपने प्रोडक्ट या जिस वस्तु की ऑनलाइन मार्केटिंग करनी है उसकी 10-20 सेकंड की video, gif image या फिर banner ads बना कर उसमे अपने प्रोडक्ट को highlight करके advertising कर सकते है। इसमें हम निम्न तरीकों से मार्केटिंग कर सकते है-

  • Static images ads:- इस तरह के Ads हमारे कंटेंट के चारों तरफ दिखाई देते है जो की एक basic banner या फिर square ads में होते है।
  • Text ads:- इस तरह के Ads को एल्गोरिथ्म की मदद से बनाया जाता है।इसमें अपने प्रोडक्ट से जुडी कुछ जानकारी को Add किया जाता है और उस जानकारी को यूजर तक पहुंचाया जाता है।
  • Floating banners ads:- इस तरह के Ads कही भी मूव कर सकते है जैसे की स्क्रीन के चारों तरफ या फिर वेबसाइट कंटेंट के ऊपर कही भी जहा आप चाहे।
  • Wallpaper ads:- यह Ads ज्यादातर वेबसाइट के background में दिखाए जाते है और यह लगभग वेबसाइट के पूरे पेज को ही कवर करते है।
  • Popup ads:- यह Ads वेबसाइट कंटेंट के सामने ही दिखाई देते है और यदि कोई विजिटर्स इन Ads पर क्लिक करता है तो ये Ad “main Screen” के सामने ही “Display” हो जाते है।
  • Flash ads:- यह Ads “moving ads” की तरह ही होते है और ये Ads viewer को कई तरह के कंटेंट दिखाते है।
  • Video ads:- इस तरह के Ads में हम अपने प्रोडक्ट के छोटे-छोटे वीडियो बनाते है और उन वीडियो को Ads के लिए उपयोग करते है, यह Ads ऑटोप्ले भी हो सकते है और या फिर यूजर खुद इन्हे प्ले कर के देख सकता है अगर वो इन्हे देखना चाहिए तो।

2. Social media ads

जब भी हम किसी सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, इंस्टाग्राम का उपयोग करते है तो हमे टाइम लाइन पर कुछ विज्ञापन दिखाई देते है जो की हमारे “browsing cache” और “सर्च हिस्ट्री” के आधार पर हमे दिखाई देते है। सोशल मीडिया के माध्यम से मार्केटिंग करते समय हम “filter” की मदद से gender और age को सेट कर सकते है। जिससे की हम यह निश्चित कर सकेंगे की हमारे द्वारा चलाया गया कैंपेन किस-किस को दिखाना है। सोशल मीडिया द्वारा एडवरटाइजिंग करना सबसे सस्ता और प्रभावी होता है।

अगर बात करें फेसबुक की तो यह एक बहुत ही बेहतरीन ऑनलाइन मार्केटिंग करने का प्लेटफॉर्म है जिसके द्वारा हम अपने “टारगेट ऑडियंस” तक बहुत ही आसानी से और प्रभावी ढंग से पहुंच सकते है।

अगर बात करें ट्विटर की तो आपको बता दें की ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते समय यदि आप ने ट्विटर को अनदेखा कर देते है तो यह आपकी बहुत ही बड़ी गलती होगी क्योंकि  ट्विटर पर 300 million से भी ज्यादा यूजर है और हर रोज कई सारे यूजर इस से जुड़ रहे है इसलिए ट्विटर भी ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए फेसबुक के जैसे ही एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म है। इसके अलावा कुछ और ऐसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म है जिनका आप आसानी से ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए उपयोग कर सकते है जैसे की-

  • LinkedIn:- इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग आप B2B सेल्स के लिए कर सकते है। B2B सेल्स का अर्थ है “Business-to-Business” सेल्स। यह एक ऐसी गतिविधि को संदर्भित करता है, जहां एक व्यवसाय अपने प्रोडक्ट्स या सेवाओं को किसी दूसरे व्यवसाय को बेच रहा है।
  • Facebook:- जैसे की हमने आपको पहले भी बताया है की ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए फेसबुक बहुत ही बेहतरीन प्लेटफॉर्म है।इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग “Funnel marketing” के लिए भी कर सकते है और इस प्लेटफार्म से आप अपने “टारगेट ऑडियंस” को भी हासिल कर सकते है।
  • Instagram:- इंस्टाग्राम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करके आप अपने प्रोडक्ट की बहुत अच्छे से ऑनलाइन मार्केटिंग कर सकते है आज कल इंस्टाग्राम का उपयोग बहुत तेजी से किया जा रहा है इंस्टाग्राम टूल का उपयोग कर के आप अपने प्रोडक्ट की जानकारी बहुत ही आसानी से लोगों तक पंहुचा सकते है।
  • Pinterest:- इस प्लेटफॉर्म का उपयोग करके आप अपने प्रोडक्ट की जानकारी लोगों को दे सकते है अपने बिज़नेस के बारे में बता सकते है इस प्लेटफॉर्म का उपयोग करके आप अपने प्रोडक्ट को पिन कर सकते है जिसे यूजर द्वारा देखा जा सकता है। आपको बता दें की Pinterest पर किसी फोटो को अपलोड करना पिन कहलाता है।

इसके अलावा आप google+, Tumbir, Reddit, Stumbleupon आदि प्लेटफॉर्म का ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए उपयोग कर सकते है। इन सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग कर के आप आसानी से कैंपेन तैयार कर सकते है।

3. सर्च इंजन मार्केटिंग (Search Engine Marketing)

सर्च इंजन मार्केटिंग online paid advertising का सबसे बेहतरीन तरीका है यह की-वर्ड के आधार पर काम करता है। कई बिज़नेसमैन इसके जरिये अपने की-वर्ड पर बिड करते है ताकि वह अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर अच्छे से रैंक करा सके। इस तरह के Ads जो की Google, Bing और अन्य सर्च इंजन पर दिखाई देते है वो सब text Ads ही होते है। यह Ads ज्यादातर सर्च इंजन रिजल्ट पेज के Top व Sides पर ही listed होते है। Search Engine Marketing (SEM) में निम्न तरह के एड्स आते है-

  • Pay Per Click (PPC):- PPC एडवरटाइजिंग का एक बेहतरीन तरीका है इसके जरिये Google पर ऑनलाइन paid ad कैंपेन चलाते है और जब कोई यूजर इन ad पर क्लिक करता है तो फिर विज्ञापनकर्ता को Google को per क्लिक के लिए pay करना होता है यही PPC (pay per click) होता है।
  • Pay Per Call (PPC):- PPC एक तरह का advertising model है जिस के तहत विज्ञापनदाता दर्शकों द्वारा किये गए प्रति कॉल क्लिक (Pay Per Call) के लिए गूगल को पेमेंट करता है।
  • Cost Per Click (CPC):- Pay Per Click (PPC) को Cost Per Click (CPC) के रूप में भी जाना जाता है। इसमें PPC के जरिये कितने यूजर हमारे Ad कैंपेन पर क्लिक करते है व हमारी वेबसाइट पर विजिट करते है और इन सब के लिए गूगल को कितना पैमेंट करना है इन सभी की गणना की जाती है।
  • Cost Per Thousand (CPM):- CPM के जरिये आपको 1000 impressions के लिए एक Flat rate charge करना होता है। इसमें “Thousand” को “M” से दर्शाया जाता है क्योंकि यह 1000 का रोमन वर्ड होता है।
  • Paid Search Advertising:- Paid Search मार्केटिंग सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM) का सबसे बेहतरीन टूल माना जाता है। यह हमारे प्रोडक्ट्स और सर्विस को ऑनलाइन सर्च करने वाले यूजर के साथ ऐड कैंपेन से match करवाता है।

लगभग 70% बिज़नेसमैन ऑनलाइन मार्केटिंग करने के लिए और अपने बिज़नेस को प्रमोट करने हेतु Search Engine Marketing (SEM) का ही उपयोग करते है। SEM को हर ब्लॉगर उपयोग कर सकता है मगर Adsense User इस का उपयोग नहीं कर सकते क्योकि Adsense Paid Traffic Allow नहीं करता है। सर्च इंजन मार्केटिंग की मदद से आपको अपनी वेबसाइट के लिए लगातार ट्रैफिक मिलता रहता है जो की बहुत ही टार्गेटेड होता है जिससे आपके बिज़नेस की selling भी हमेशा अच्छी रहती है और आपके बिज़नस को अच्छा प्रॉफिट होता है।

4. Remarketing / Retargeting

ऑनलाइन मार्केटिंग का यह सबसे बेहतरीन तरीका माना जाता है। इसके जरिये आप अपने प्रोडक्ट को उन सभी यूजर को दुबारा दिखा सकते है जो आपके द्वारा चलाये गए Ad कैंपेन के जरिये या किसी अन्य माध्यम से आपकी वेबसाइट पर विजिट तो करते है पर कुछ प्रोडक्ट नहीं खरीद पाते है। रीमार्केटिंग का उपयोग कर के आप आसानी से अपने प्रोडक्ट को सेल कर सकते है।

इसके लिए जब भी कोई user हमारी वेबसाइट पर विजिट करता है तो हम उसके device पर एक Cookie डाल देते है इससे जब भी वह यूजर किसी भी प्लेटफॉर्म जैसे की सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर आदि का उपयोग करता है तो उसे हमारे प्रोडक्ट से जुड़े Ads ही दिखाई देंगे जो की हमारे द्वारा चलाये जाते है। इससे यह फायदा होगा की यूजर को उस प्रोडक्ट की जानकारी बार-बार Show होगी जिसे वो खरीदना चाहता था।

5. Video Ads

वीडियो Ads के जरिये ऑनलाइन मार्केटिंग करना एक शानदार और बेहतरीन उपाय है। वीडियो Ads को आप यूट्यूब के जरिये users को दिखा सकते है। यूट्यूब दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी सोशल मीडिया साइट है जिसका उपयोग दुनिया भर में करोड़ो यूजर करते है।

YouTube दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन है, साथ ही साथ यूट्यूब पर 1 बिलियन से अधिक सब्सक्राइबर रजिस्टर्ड है। और हर रोज YouTube पर लगभग 1 बिलियन यूजर वीडियो को देखते हैं। अब आप सोचिये की आप अपने प्रोडक्ट की ऑनलाइन मार्केटिंग करने के लिए अगर Video Ads का उपयोग करते है और इसके लिए यूट्यूब का सहारा लेते है तो आपके Ads को हर रोज कितने यूजर देख सकेंगे।

यूट्यूब के अलावा कुछ और प्लेटफॉर्म है जिन पर आप अपने Video Ads को दिखा सकते है जैसे की- Google,Facebook, Twitter, Vimeo आदि। आप इन सभी प्लेटफॉर्म का उपयोग अपने प्रोडक्ट के Video Ads बनाकर ऑनलाइन मार्केटिंग कर सकते है।

6. E-mail Marketing

आज के समय में लगभग हर कोई ई-मेल का उपयोग करता है और कई बिजनेसमैन तो ई-मेल का उपयोग अपने बिज़नेस को प्रमोट करने के लिए भी करते है। वह E-mail के माध्यम से अपने ग्राहक और यूजर को प्रोडक्ट पर चल रहे ऑफर के बारे में मेल कर के बताते हैं। इसमें सबसे बड़ा फायदा ये है की आप एक साथ कई लोगों को अपने प्रोडक्ट पर चल रहे ऑफर के बारे में ई-मेल भेज सकते है और अपने ऑनलाइन बिज़नेस व प्रोडक्ट की जानकारी पहुंचा सकते है।

अपने प्रोडक्ट की ऑनलाइन मार्केटिंग करने का यह बहुत ही अच्छा माध्यम है। इसका उपयोग आप “Business To Business” के लिए भी कर सकते है। मेल के जरिये आप अपने बिज़नेस की जानकारी या सेल्स सम्बंधित कोई जानकारी की अन्य कंपनी को भेज सकते है।

  • E-mail Campaign Managers:-
  1. MailChimp
  2. Constant Contact
  3. Aweber
  4. Convertkit
  5. GetResponse
  6. Campaign Monitor
  7. Active Campaign

ई-मेल मार्केटिंग को सफल बनाने के लिए आपको सबसे पहले आपको ईमेल एड्रेस की एक लिस्ट तैयार करनी होगी इसमें आप उन सभी को शामिल करें जिन्हे आप अपने बिसनेस व प्रोडक्ट ऑफर की जानकारी देना चाहते है। इसके लिए आप अपनी वेबसाइट पर एक साधारण सा Newsletter Sign-up तैयार कर सकते है। इससे आप अपने कस्टमर व यूजर को ऑफर की जानकारी मेल कर सकते है।

7. Blog Marketing

ब्लॉग मार्केटिंग भी एक बेहतर ऑपशन है ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए। एक ब्लॉग ना केवल आपकी कंपनी को फोल्लोवेर्स के माध्यम से अपना लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करता है, बल्कि यह आपको उपभोक्ताओं के साथ सीधे जुड़ने का एक आसान सा माध्यम भी है। आजकल ब्लोग्स लिखना ऑनलाइन बिज़नेस और ऑफलाइन बिज़नेस दोनों के लिए ही सफलता कि कुंजी बन चूका है।

जब आप ब्लोग्स के माध्यम से अपने बिज़नेस के बारे में, प्रोडक्ट और सर्विस, ब्रांड के बारे में लोगों को बताते है तो लोग इसमें रूचि लेंगे, आपके ब्लोग्स पढ़ कर वो आपके बिज़नेस, प्रोडक्ट व सर्विस के बारे में जानेगे और इनके प्रति आकर्षित होंगे। इसका उपयोग ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए बहुत ही बेहतर ऑपशन है।

3. ऑनलाइन मार्केटिंग के फायदे (Benefits of Online Marketing)

अगर बात करें ऑनलाइन मार्केटिंग के फायदे की तो ये तो आप सभी जानते ही है की आज के समय में इंटरनेट का हमारे जीवन में क्या महत्व है हर दूसरा व्यक्ति आज इंटरनेट का भरपूर उपयोग करता है और सोशल मीडिया का तो जरूर करते है। अब अगर हम अपने बिज़नेस की ऑनलाइन मार्केटिंग करते है तो आप सोच सकते है इससे हमारे बिज़नेस को कितना फायदा होगा। इसके अलावा कुछ और ऐसे फायदे है जिन्हे आपको जानना चाहिए जैसे की-

  • ऑनलाइन मार्केटिंग का सबसे बढ़िया और बेहतरीन जो फायदा है वो यह है की ऑनलाइन मार्केटिंग करते समय हमारे पास Information के लिए कोई लिमिट नहीं होती है हम जितनी चाहिए उतनी इनफार्मेशन अपने बिज़नेस की बारे में दे सकते है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग का यह भी एक अच्छा फायदा है की हम कस्टमर के according अपने कैंपेन तैयार कर सकते है। जैसे की मान लीजिये अगर हम बच्चों से जुड़े कुछ प्रोडक्ट सेल करते है तो हम उनके according अपने कैंपेन तैयार कर सकते है और यदि हम बड़ो के हिसाब से कुछ सेल करते है तो उनके according कैंपेन तैयार कर सकते है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग से हम हमारी वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक प्राप्त कर सकते है जो की हमारे बिज़नेस के लिए भी बेहतर है और हमारी वेबसाइट के लिए भी। क्योंकि जितना ज्यादा ट्रैफिक हमारी वेबसाइट पर आएगा उतने ज्यादा ही यूजर हम से जुड़ेंगे और हमारे बिज़नेस के बारे में जान पाएंगे।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग के जरिये हम अपने प्रोडक्ट्स की जल्दी से जल्दी और अच्छे से प्रमोशन कर सकते है।

4. ऑनलाइन मार्केटिंग क्यों जरुरी है? (Why Online Marketing is Important?)

आइये अब बताते है आपको की हमारे बिज़नेस के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग करना क्यों जरुरी है-

  • ऑनलाइन मार्केटिंग सबसे सरल और बेहतरीन तरीका है अपने बिज़नेस व प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग ऑफलाइन मार्केटिंग की तुलना में काफी लाभदायक और सस्ती होती है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग करने से आपको अपने बिज़नेस के लिए बेहतर रिजल्ट प्राप्त होता है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग आपके बिज़नेस व प्रोडक्ट को target audience तक पहुंचाने का सबसे अच्छा और बेहतरीन तरीका है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग में आपको हज़ारो ऑपशन मिलते है अपनी सर्विस और प्रोडक्ट के प्रमोशन करने के लिए।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग से आपके बिज़नेस की Brand Value बहुत बढ़ जाती है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग के जरिये आप लाखों लोगों तक अपने बिज़नेस की जानकारी पंहुचा सकते है तथा उनको अपने प्रोडक्ट सेल कर सकते है।

5. ऑनलाइन मार्केटिंग के नुकसान (Disadvantages of Online Marketing)

आप में से कई सोच रहे होंगे की ये तो हमे बस ऑनलाइन मार्केटिंग के फायदे ही फायदे बताये जा रहे है तो इसका मतलब क्या ऑनलाइन मार्केटिंग के कोई नुकसान नहीं होते क्या? तो आपको बता दें की ऐसा नहीं है की ऑनलाइन मार्केटिंग के केवल और केवल फायदे ही फायदे है इसके थोड़े बहुत नुकसान भी है जैसे की-

  • आज कल ऐसे बहुत से सॉफ्टवेयर है जिनका उपयोग कर के Users हमारे ad को filter कर देते है इससे advertisers के पक्ष में बहुत मुश्किल आ जाती है और उनको सही customers का पता नहीं चल पाता है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग हमारे बिज़नेस के लिए बेहतर तो है लेकिन इससे मार्केटिंग जॉब्स धीरे-धीरे कम होती जा रही है। क्योंकि पहले कंपनी को अपने प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग करने के लिए किसी को जॉब पर रखना पड़ता था लेकिन ऑनलाइन मार्केटिंग के कारण बिजनेसमैन खुद ही अपने प्रोडक्ट की ऑनलाइन मार्केटिंग कर लेते है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग से धीरे-धीरे लोगों में मार्केटिंग स्किल भी कम हो रही है क्योंकि ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए इतना सब नहीं सोचना पड़ता जितना की ऑफलाइन मार्केटिंग के लिए सोचना पड़ता है की कैसे करें, क्या करे, कहाँ-कहाँ करें आदि।

आखिर में हम यही कह सकते है की हर चीज के कुछ फायदे भी होते है और कुछ नुकसान भी लेकिन इंसान को हमेशा समय के अनुसार ही चलना चाहिए आज का समय इंटरनेट का है और यह आगे भी बढ़ता रहेगा, इसलिए अब अपने बिज़नेस व प्रोडक्ट की मार्केटिंग के लिए या फिर प्रमोशन के लिए ऑनलाइन ही सबसे अच्छा और बेहतर तरीका है।

आशा करते है की आप जागरूक पर “ऑनलाइन मार्केटिंग क्या है” से जुडी इस जानकारी को समझ पाएं होंगे। उम्मीद है आपको जागरूक पर हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी।

भारत में ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें?
जागरूक यूट्यूब चैनल

अधिक जानकारी के लिए ये भी देखें:

Digital या Online Marketing क्या होता हैं और इसकी शुरुवात कैसे करे
Digital marketing

Leave a Comment