पत्रकार कैसे बनें?

पत्रकार यानी जर्नलिस्ट का नाम सुनते ही अगर आपका मन रोमांच और उत्साह से भर जाता है और आपको लगता है कि एक पत्रकार अपने समाज को आगे बढ़ाने और बुराइयों को मिटाने में मददगार साबित होता है और इसलिए आप भी पत्रकार बनने में रूचि रखते हैं।

लेकिन पत्रकार बनने से जुड़ी प्रक्रिया के बारे में आपको जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल में हम आपको पत्रकार बनने से जुड़ी सभी जरुरी जानकारी देते हैं ताकि आपके लिए सही करियर ऑप्शन चुनना आसान हो जाये। तो चलिए, जानते है पत्रकार बनने की प्रक्रिया के बारे में।

सबसे पहले जानते हैं कि पत्रकारिता क्या है?

पत्रकारिता एक ऐसा व्यवसाय है जिसमें समाचारों को इकट्ठा करना, लिखना, सम्पादित करना और जानकारी एकत्रित करके सही माध्यम से घर-घर पहुँचाने का काम किया जाता है। इस दौर में न्यूजपेपर और मैगज़ीन्स के अलावा पत्रकारिता के बहुत से माध्यम हैं जैसे रेडियो, टेलीविजन और वेब पत्रकारिता।

अब जानते हैं कि पत्रकार बनने के लिए एलिजिबिलिटी क्या होनी चाहिए?

पत्रकारिता के इस क्षेत्र की ख़ास बात ये है कि यहाँ पत्रकार बनने के लिए आपकी एजुकेशन से ज्यादा आपके पैशन को महत्व दिया जाता है। आपमें अगर साहस, सच उजागर करने का जुनून, समय की परवाह किये बिना काम में जुटे रहने की लगन और संयम हों तो आप किसी भी क्वालिफिकेशन के साथ इस फील्ड से जुड़ सकते हैं।

लेकिन अगर आप इस फील्ड में एक्सपर्ट बनना चाहते हैं, साथ ही अच्छी सैलरी और अच्छी पोजीशन पर रहते हुए काम करना चाहते हैं तो बेहतर यही होगा कि आप पत्रकारिता से जुड़ी एजुकेशन जरूर लें।

  • पत्रकारिता से जुड़ी एजुकेशन लेने के लिए ये जरुरी है कि आपने 10+2 क्लास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से, किसी भी स्ट्रीम (साइंस/आर्ट्स/कॉमर्स) में पास किया हो, जिसमें कम से कम 50% मार्क्स होने जरुरी है।
  • इसके बाद आप जर्नलिज्म में बैचलर डिग्री (BJMC – Bachelor of Journalism and Mass Communication) लें, जिसकी अवधि 3 साल होती है। इसके अलावा हर कॉलेज के एडमिशन प्रोसेस में कुछ और कंडीशंस भी शामिल हो सकती हैं।
  • अगर आपका इंटरेस्ट न्यूज एडिटर, वीडियो मेकर, विजुअल एडिटिंग ग्राफिक से जुड़ी जॉब पाने में है तो आप बैचलर ऑफ साइंस (एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया) की डिग्री ले सकते हैं।
  • इसके अलावा आप बैचलर ऑफ आर्ट्स (जर्नलिज्म) की डिग्री भी ले सकते हैं।
  • इसके बाद आप जर्नलिज्म में मास्टर्स डिग्री (MJMC – Master of Journalism and Mass Communication) भी ले सकते हैं, जो 2 साल का कोर्स होता है। किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट होने के बाद ये मास्टर्स डिग्री ली जा सकती है लेकिन बहुत से कॉलेजेस ऐसे भी हैं जो जर्नलिज्म में ग्रेजुएशन डिग्री रखने वाले कैंडिडेट्स को ही पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री में एडमिशन देते हैं।
  • अगर आप चाहे तो जर्नलिज्म में सर्टिफिकेट या डिग्री कोर्स भी कर सकते हैं।

अपनी पसंद और जरुरत के अनुसार एजुकेशन लेने के बाद, आप इनमें से किसी भी फील्ड में जॉब पा सकते हैं–

  • न्यूजपेपर
  • मैगज़ीन
  • एडवरटाइजिंग एजेंसी
  • पब्लिकेशन वेबसाइट
  • पब्लिशिंग हाउस
  • रेडियो
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट

जर्नलिज्म कोर्स करने के बाद आपके लिए ये जॉब ऑप्शंस खुल जाएंगे– डेस्क राइटर, रिपोर्टर, कोरस्पोंडेंट, एडिटर, वीडियो एडिटर, ग्राफ़िक एडिटर, रेडियो जॉकी, साउंड मिक्सर एंड साउंड रिकॉर्डर, एंकर, टीवी प्रोड्यूसर, फोटो जर्नलिस्ट, वीडियो जर्नलिस्ट, कार्टूनिस्ट, ब्लॉग राइटर, इलस्ट्रेटर, पब्लिक रिलेशन ऑफिसर, स्क्रिप्ट राइटर और भी बहुत कुछ।

एक पत्रकार में क्या-क्या स्किल्स होनी चाहिए-

  • भाषा पर मजबूत पकड़ होनी चाहिए
  • कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी होनी चाहिए
  • पॉलिटिक्स, कल्चर, रिलिजन, सोशल और करंट अफेयर्स की गहरी जानकारी होनी चाहिए
  • फैक्ट और फिक्शन के बीच अंतर समझने की क्षमता होनी चाहिए
  • हर ख़बर के सभी पहलुओं को परखने और समझने की क्षमता होनी चाहिए
  • मुश्किल परिस्थतियों में काम करने और संयम बनाये रखना आना चाहिए

आइये, अब जर्नलिज्म कोर्स करवाने वाले इंडिया के कुछ कॉलेजेस के नाम जानते हैं-

  • डिपार्टमेंट ऑफ जर्नलिज्म, लेडी श्री राम कॉलेज, दिल्ली
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मॉस कम्युनिकेशन, नई दिल्ली
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलुरु
  • एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म, चेन्नई
  • जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी, भोपाल

अब आपके पास पत्रकार बनने से जुड़ी सभी जरुरी जानकारी आ गयी है इसलिए पत्रकारिता से जुड़े जिस एरिया में आप आगे बढ़ना चाहते हैं जैसे प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया या पब्लिक रिलेशन, उसी के अनुसार कोर्स का चुनाव करें और कोर्स करने के बाद इंटर्नशिप के जरिये अपनी स्किल्स को ज्यादा बेहतर बना लें और जर्नलिज्म के फील्ड में करियर बनाने के लिए उतर जाएँ।

जागरूक टीम को उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

क्लैट क्या है?

जागरूक यूट्यूब चैनल