Home » सामान्य ज्ञान » पौधों के वानस्पतिक नाम क्या है?

पौधों के वानस्पतिक नाम क्या है?

आज हम पेड़ पौधों के वानस्पतिक नाम (paudhe ka vanaspatik naam) के बारे में बात करेंगे। हमारे जीवन में पेड़-पौधों के महत्व को तो हर कोई जानता है की ये हमारे लिए कितने जरुरी होते हैं। इन्हीं से हमें ऑक्सीजन और फल-फूल प्राप्त होते हैं। कई पेड़-पौधों से तो कई प्रकार की जड़ी-बूटियां भी तैयार की जाती है जो कई बीमारियों में लाभदायक होती है। आर्युवैदिक इलाज में तो इनका महत्व बहुत अधिक है।

क्या कभी आपने अपने दैनिक जीवन में प्रयोग में लेने वाले इन पेड़-पौधों के वानस्पतिक नाम (paudhe ka vanaspatik naam) जानने की कोशिश की है। आज कल तो कई प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पेड़-पौधों के वैज्ञानिक नाम पूछे जाते है।

क्या आप जानते है कि पेड़-पौधों के इन वानस्पतिक नामकरण के लिए अन्तरराष्ट्रीय कोड “International Code of Botanical Nomenclature” (ICBN) के नियमों का पालन किया जाता है।

पौधों के वानस्पतिक नाम क्या है? (paudhe ka vanaspatik naam)

पेड़-पौधों के वानस्पतिक नामकरण रखने का उद्देश्य यही होता है की पेड़-पौधों के लिए एक ऐसा नाम हो जो पूरे विश्व में उन पेड़-पौधे के संदर्भ में उपयुक्त हो। तो आइये जानते है इन पेड़-पौधों के वानस्पतिक नाम क्या है?

1. टमाटर– टमाटर के पौधे का वानस्पतिक नाम “लाइकोपर्सिकम एस्कुलेन्टम” होता है।

2. बैंगन– बैंगन के पौधे का वानस्पतिक नाम “सोलेनम मेलोन्जीना” होता है।

3. मिर्च– मिर्च के पौधे का वानस्पतिक नाम “कैप्सिकम स्पेशीज” होता है।

4. फूलगोभी– फूलगोभी के पौधे का वानस्पतिक नाम “ब्रेसिका ओलेरेसिया व्रोट्राइटिस” होता है।

5. बंद गोभी-बंद गोभी के पौधे का वानस्पतिक नाम “ब्रेसिका ओलेरेसिया कैपीटाटा” होता है।

6. गॉठगोभी– गॉठगोभी के पौधे का वानस्पतिक नाम “ब्रेसिका ओलेरेसिया” होता है।

READ  संसार की सबसे प्राचीन भाषा कौन सी है?

7. भिंडी– भिंडी का वानस्पतिक नाम “अवेलमोस्कस एस्कुलेन्टस” होता है।

8. प्याज– प्याज के पौधे का वानस्पतिक नाम “एलिएम सैपा” होता है।

9. लहसुन– लहसुन के पौधे का वानस्पतिक नाम “एलियम सेटाइवम” होता है।

10. गाजर– गाजर के पौधे का वानस्पतिक नाम “डौकस कैरोटा” होता है।

11. मूली– मूली के पौधे का वानस्पतिक नाम “रेफेनस सैटाइवस” होता है।

12. शलगम– शलगम के पौधे का वानस्पतिक नाम “ब्रेसिका रैपा” होता है।

13. चुकन्दर– चुकन्दर के पौधे का वानस्पतिक नाम “बीटा बुल्गेरिस” होता है।

14. मटर– मटर के पौधे का वानस्पतिक नाम “पाइसम सेटाइवम” होता है।

15. ग्वार– ग्वार के पौधे का वानस्पतिक नाम “साइमोप्सिस” होता है।

16. सेम फली– सेम की फली के पौधे का वानस्पतिक नाम “डॉलीकस लवलव” होता है।

17. लोबिया– लोबिया के पौधे का वानस्पतिक नाम “विग्ना अनग्यूकूलेटा” होता है।

18. पालक– पालक के पौधे का वानस्पतिक नाम “बीटा बलोरिस” होता है।

19. मैथी– मैथी के पौधे का वानस्पतिक नाम “ट्राइगोनेला फीनस” होता है।

20. चौलाई– चौलाई के पौधे का वानस्पतिक नाम “एमरेन्थस” होता है।

21. राजमा या फ्रेन्चबीन– राजमा या फ्रेन्चबीन के पौधे का वानस्पतिक नाम “फेलियोलस बुल्गेरिस” होता है।

22. लौकी– लौकी के पौधे का वानस्पतिक नाम “लेजीनेरिया सिसनेरिया” होता है।

23. तोरई– तोरई के पौधे का वानस्पतिक नाम “लूफा एक्येगुला” होता है।

24. कद्दू– कद्दू के पौधे का वानस्पतिक नाम “कुकुरबिटा मौसचेटा” होता है।

25. करेला– करेले के पौधे का वानस्पतिक नाम “मेमोर्डिका चेरेंटिका” होता है।

26. तरबूज– तरबूज के पौधे का वानस्पतिक नाम “सिदलस लेनेटस” होता है।

READ  किसान दिवस क्यों मनाया जाता है?

27. खरबूज– खरबूज के पौधे का वानस्पतिक नाम “कुकुमिस मेलो” होता है।

28. टिन्डा– टिन्डे के पौधे का वानस्पतिक नाम “सिटलस लेटेनस” होता है।

29. ककड़ी– ककड़ी के पौधे का वानस्पतिक नाम “कुकुबिटा मीली युटीलिसियम” होता है।

30. खीरा– खीरे के पौधे का वानस्पतिक नाम “कुकुरबिटा सेटाइवस” होता है।

31. शकरकन्द– शकरकन्द के पौधे का वानस्पतिक नाम “आईपोमिया बटाटा” होता है।

32. आलू– आलू के पौधे का वानस्पतिक नाम “सोलेनम ट्यूबरोसम” होता है।

33. आम– आम के पौधे का वानस्पतिक नाम “मेन्जीफेरा इंडिका” होता है।

34. अमरूद– अमरूद के पौधे का वानस्पतिक नाम “साइडियम ग्वाजावा” होता है।

35. ऑवला– ऑवला के पौधे का वानस्पतिक नाम “एमब्लिका ऑफीसिनेलिस” होता है।

36. निम्बू– निम्बू के पौधे का वानस्पतिक नाम “सिट्रसओ रेन्टीफोलिया” होता है।

37. अंगूर– अंगूर का वानस्पतिक नाम “विटिस विनीफैरा” होता है।

38. पपीता– पपीते का वानस्पतिक नाम “कैरीका पपाया” होता है।

39. केला– केले का वानस्पतिक नाम “मूसा पैराडाइसिएका” होता है।

40. हल्दी– हल्दी के पौधे का वानस्पतिक नाम “कुरकुमा लौगा” होता है।

41. अदरक– अदरक के पौधे का वानस्पतिक नाम “जिन्जीबर ऑफिसिनेल” होता है।

42. हींग– हींग के पौधे का वानस्पतिक नाम “फेरूला ऐसाफोइटिडा” होता है।

43. पुदीना– पुदीने के पौधे का वानस्पतिक नाम “मेन्था पिपरेटा” होता है।

44. लौंग– लौंग के पौधे का वानस्पतिक नाम “साइजियम एरोमेटिकम्” होता है।

45. इलाइची– इलाइची के पौधे का वानस्पतिक नाम “इलिटेरिया कोडेर्मोमम” होता है।

45. धनियां– धनियें के पौधे का वानस्पतिक नाम “कोरिन्ड्रम सेटाइवस” होता है।

46. सौंफ– सौंफ के पौधे का वानस्पतिक नाम “फोनीकुल्म वल्गर” होता है।

READ  कौनसा देश कभी इंग्लैंड का गुलाम नहीं हुआ?

47. जीरा– जीरे के पौधे का वानस्पतिक नाम “क्युमिनस् सायमिनस” होता है।

48. केसर– केसर के पौधे का वानस्पतिक नाम “क्रोकस सेटाइवस” होता है।

49. जामुन– जामुन के पौधे का वानस्पतिक नाम “शायजियम क्यूमिनी” होता है।

50. सेब– सेब के पौधे का वानस्पतिक नाम “पाइरस मैलस” होता है।

51. नाशपाती– नाशपाती के पौधे का वानस्पतिक नाम “पाइरस पाइरिफोलिया” होता है।

52. शहतूत– शहतूत के पौधे का वानस्पतिक नाम “मोरस् एल्बा” होता है।

53. पीपल– पीपल के पौधे का वानस्पतिक नाम “पाइपर लौगंम” होता है।

54. नारियल– नारियल का vanaspatik naam “कोकोस न्यूसीफेरा” होता है।

55. चाय– चाय के पौधे का vanaspatik naam “केमेलिया साइनेसिस” होता है।

56. कॉफी– कॉफी के पौधे का vanaspatik naam “कॉफिया अरेबिका” होता है।

ये थे कुछ ऐसे पौधों के वानस्पतिक नाम जो हमारे दैनिक जीवन में हमेशा काम में आते रहते हैं, हमें उम्मीद है जागरूक पर आपके लिए paudhe ka vanaspatik naam यह जानकारी उपयोगी साबित होगी।

बायोलॉजी क्या है?

जागरूक यूट्यूब चैनल