सोशल मीडिया मार्केटिंग क्या है?

Spread the love

सोशल मीडिया (social media) पर तो आप भी एक्टिव रहते होंगे लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि सोशल मीडिया के जरिये आप मार्केटिंग भी कर सकते हैं? अगर आप इस बारे में नहीं जानते हैं तो क्यों ना आज इसी बारे में बात कर ली जाये।तो चलिए, आज सोशल मीडिया मार्केटिंग के बारे में जानते हैं (learn social media marketing in hindi)।

सोशल मीडिया मार्केटिंग क्या है? (social media marketing kya hai)

आजकल सोशल मीडिया का यूज हर एज ग्रुप और प्रोफेशन के लोग करने लगे हैं और बिजनेसमैन भी अपने ब्रांड को अपने टारगेट ऑडियंस तक पहुँचाने के लिए इस प्लेटफॉर्म पर प्रमोशन करते हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग एक इंटरनेट मार्केटिंग (internet marketing) का फॉर्म है जहाँ अपने ब्रांड से रिलेटेड कंटेंट (brand related content) को शेयर करके आसानी से मार्केटिंग गोल्स को अचीव किया जा सकता है।

इस तरह की मार्केटिंग में बहुत-सी एक्टिविटीज शामिल होती हैं जैसे टेक्स्ट, इमेज या वीडियो पोस्ट करना। ऐसा करने पर सोशल मीडिया यूजर्स का ध्यान उस ब्रांड की ओर खिंचा जाता है और उस कम्पनी या ब्रांड के मार्केटिंग गोल्स अचीव होने लगते हैं क्योंकि बहुत से यूजर्स उस ब्रांड को फॉलो करने लगते हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए आपके पास बहुत से प्लेटफॉर्म होते हैं जैसे फेसबुक (Facebook), यूट्यूब (YouTube), इंस्टाग्राम (Instagram), ट्विटर (Twitter), लिंकडीन (LinkedIn) और पिनटेरेस्ट (Pinterest)।

सोशल मीडिया पर मार्केटिंग करने के लिए कंटेंट प्लानिंग करनी चाहिए और ऑथेंटिक और इम्प्रेसिव कंटेंट ही पोस्ट करना चाहिए।

सोशल मीडिया मार्केटिंग के फायदे

1. ब्रांड अवेयरनेस (Brand Awareness)

जब नियमित रुप से किसी भी ब्रांड को इफेक्टिव तरीके से प्रमोट किया जाता है तो ज्यादा से ज्यादा लोग उसके बारे में जान पाते हैं और उस प्रोडक्ट के प्रति अवेयरनेस बढ़ती है। ऐसा होने पर उस ब्रांड की मार्केटिंग हो जाती है जिससे उसका इस्तेमाल करने वालों की संख्या भी बहुत बढ़ जाती है।

2. सर्च इंजन रैंकिंग में सुधार (Improvement in Search Engine Ranking)

अगर आप ऑनलाइन बिजनेस के लिए वेबसाइट चलाते हैं और सोशल मीडिया पर अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन करते हैं तो बहुत ज्यादा ट्रैफिक आपकी वेबसाइट पर भी आता है, जहाँ यूजर्स को आपके बिजनेस और प्रोडक्ट्स की इन्फॉर्मेशन मिलती है और वो आपकी कंपनी से जुड़ पाते हैं।

3. कम खर्च (Low Cost)

सोशल मीडिया पर प्रमोशन में लगने वाला खर्च, मार्केटिंग के दूसरे तरीकों की तुलना में सस्ता होता है और इससे मिलने वाले कस्टमर्स की संख्या तुलनात्मक रुप से ज्यादा हो सकती है क्योंकि हर एज ग्रुप सोशल मीडिया पर एक्टिव है जो आसानी से आपके प्रोडक्ट और ब्रांड के बारे में जानकारी लेता है।

4. कस्टमर सैटिस्फैक्शन (Customer satisfaction)

सोशल मीडिया पर इमेज, टेक्स्ट या वीडियो की मदद से आप केवल अपने प्रोडक्ट का प्रमोशन ही नहीं कर सकते हैं बल्कि कस्टमर्स से इंटरेक्ट भी कर सकते हैं। ऐसा होने पर अगर आप अपने कस्टमर्स की प्रोडक्ट रिलेटेड क्वेरीज को सॉल्व कर देते हैं तो आप पर कस्टमर्स का भरोसा बढ़ता है और ये आपके प्रोडक्ट के लिए बहुत फायदेमन्द साबित होता है।

दोस्तों, सोशल मीडिया ना केवल अपनी बात कहने का खुला मंच है बल्कि अपने बिजनेस को प्रमोट करने का भी बहुत अच्छा प्लेटफॉर्म है इसलिए इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करके आप भी आसानी से अपने प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं।

जागरुक टीम को उम्मीद है सोशल मीडिया मार्केटिंग क्या है (social media marketing kya hai) कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

सोशल मीडिया से जुड़े रोचक तथ्य

अधिक जानकारी के लिए ये भी देखें:

Digital या Online Marketing क्या होता हैं और इसकी शुरुवात कैसे करे

Leave a Comment