24 कैरेट 22 कैरेट और 18 कैरेट सोने में क्या अंतर होता है?

आइये जानते हैं 24 कैरेट 22 कैरेट और 18 कैरेट सोने में क्या अंतर होता है। भारत देश में सोना यानी गोल्ड एक बहुत ही फेमस और पसंदीदा धातु है जिसे हर कोई ज्यादा से ज्यादा मात्रा में अपने पास रखना चाहता है। ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाएं ही सोने से बने गहनों में रूचि रखती है बल्कि पुरुषों को भी सोना रखना बेहद पसंद होता है। फिर चाहे वो गहनों के रुप में हो या गोल्ड बिस्कुट या सिक्कों के रूप में हो।

हमारे देश में सोने की ख़पत ज्यादा होने का कारण भी यही है कि इस धातु को हर भारतीय पसंद करता है और इसका महत्त्व पूजापाठ में भी बहुत होता है और लेटेस्ट फैशन को फॉलो करने में भी होता है, तभी तो हर दौर में डिमांड के अनुसार नए-नए तरीके के गहनें बनाये जाते रहे हैं।

लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि जो सोना आप खरीदते हैं, वो कितने कैरेट का होता है और उसका मतलब क्या है। अगर आप नहीं जानते हैं तो आज आपको सोने से जुड़ी ये खास और जरुरी जानकारी जरूर लेनी चाहिए कि सोने के 24 कैरेट, 22 कैरेट और 18 कैरेट सोने में क्या अंतर होता है, ताकि आप सोना खरीदते समय किसी तरह का नुकसान ना उठायें।

24 कैरेट 22 कैरेट और 18 कैरेट सोने में क्या अंतर होता है?

आइये, सबसे पहले जानते हैं 24 कैरेट सोने के बारे में – 24 कैरेट सोना शुद्ध सोना होता है। इसमें सोने की मात्रा 99.9 परसेंट होती है। शुद्ध सोना बहुत लचीला होता है इसलिए इसके गहने बनाना आसान नहीं होता है और इसके बनाये गहने बहुत जल्दी मुड़ने लगते हैं।

ऐसा होने पर गहनों का आकार बिगड़ जाता है और उन्हें बार-बार पहनना संभव नहीं हो पाता है जबकि ये तो आप भी जानते हैं कि हर ग्राहक सोने के गहने बनवाते या खरीदते समय यही चाहता है कि वो इन गहनों को बार-बार लगातार, बिना किसी परेशानी के पहन सके।

ऐसे में 24 कैरेट सोने को बार या ईंट के रुप में ही इस्तेमाल किया जाता है लेकिन जब शुद्धता की बात आती है तो सोने का शुद्ध रूप 24 कैरेट को ही माना जाता है।

अब जानते हैं 22 कैरेट सोने के बारे में – 22 कैरेट सोना भले ही सोने का शुद्ध रुप नहीं होता है लेकिन इसका इस्तेमाल गहने बनाने में सबसे ज्यादा किया जाता है क्योंकि 22 कैरेट सोने से बने गहने 24 कैरेट सोने की तुलना में कहीं ज्यादा मजबूत होते हैं।

सोने की इस क्वालिटी में सोने की मात्रा 91.6 परसेंट होती है और बाकी मात्रा कॉपर और जिंक जैसी धातुओं से पूरी की जाती है। ऐसा करने का कारण सोने को मजबूती देना है ताकि उससे सुन्दर गहने बनाये जा सके और वो मुड़े नहीं।

22 कैरेट सोने में सोने की मात्रा थोड़ी कम होती है इसलिए इसका दाम भी 24 कैरेट सोने की तुलना में कुछ हजार रुपये कम होता है लेकिन जब भी बात सोने के गहने बनाने की होती है तो 22 कैरेट गोल्ड का ही नाम लिया जाता है।

24 कैरेट और 22 कैरेट के बारे में जान लेने के बाद, अब जानते हैं 18 कैरेट के बारे में – ये तो आप समझ ही गए होंगे कि जैसे-जैसे कैरेट कम होते जाते हैं, सोने की शुद्धता भी कम होती जाती है यानी 24 कैरेट शुद्ध सोना, 22 कैरेट उससे कम शुद्ध और 18 कैरेट में सोने की मात्रा इनसे कम ही होगी।

18 कैरेट सोने में सोने की मात्रा 75 प्रतिशत होती है और बाकी 25 प्रतिशत मात्रा सिल्वर, जिंक, निकेल और कॉपर जैसी धातुओं की होती है। इस 18 कैरेट का इस्तेमाल ऐसे गहने बनाने में किया जाता है जिनमें सोने के गहने में मोती या हीरे जुड़े होते हैं।

ऐसा करने का कारण यही होता है कि 18 कैरेट सोना 22 और 24 कैरेट की तुलना में ज्यादा मजबूत होता है इसलिए इससे बने गहनों में लगे स्टोन अपनी जगह पर टिके रहते हैं। 18 कैरेट सोने में सोने की मात्रा कम होती है इसलिए इसका मूल्य भी 22 कैरेट सोने के मूल्य से कम होता है।

इस तरह आप अपनी जरुरत, डिजाइन की चॉइस और बजट के हिसाब से सोना खरीद सकते हैं यानी आप 24 कैरेट, 22 कैरेट और 18 कैरेट गोल्ड में से सही ऑप्शन चुन सकते हैं।

अब आप समझ ही गए होंगे कि शुद्ध सोना कौनसा होता है और जिस कैरेट में सोने की मात्रा कम होती है उसकी मजबूती मिश्र धातुएं मिलने से बढ़ती जाती है।

उम्मीद है जागरूक पर ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए सोने की खरीदारी करते समय फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल