होम स्वास्थ्य योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

आइये जानते हैं योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम। आजकल योग करना बहुत से लोगों की दिनचर्या का अहम अंग बन गया है। बच्चे, बुजुर्ग और युवा सभी योग के महत्व को समझने लगे हैं और इसे विशेष महत्व भी देने लगे हैं जिसके चलते स्वस्थ तन-मन पाना आसान लगने लगा है।

लेकिन योग को व्यायाम समझने की भूल नहीं करनी चाहिए क्योंकि व्यायाम और कसरत से शरीर की मांसपेशियां मजबूत बनती है वहीँ योग करने से तन-मन का तनाव दूर होता है और शरीर को स्वस्थ और मन को स्थिर व शांत बनाया जा सकता है। व्यायाम और योग दोनों ही शरीर को दुरुस्त करने का काम ज़रूर करते हैं लेकिन दोनों की प्रकृति अलग-अलग होती है।

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

हो सकता है कि आपने योग करना अभी शुरू ही किया हो और आप योग से मिलने वाले फायदों का पूरी तरह लाभ नहीं उठा पा रहे हो। ऐसे में ये जानना जरुरी है कि योग करने का सही तरीका क्या है और इससे जुड़े नियम क्या है, ताकि इन्हें समझकर आसानी से योग किया जा सके और इससे मिलने वाले फायदे भी प्राप्त हो सकें।

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

पहला नियम- योग का समय निश्चित हो – आपके द्वारा किये गए योग की सफलता इसी में है कि योग करने का समय निश्चित हो और रोज़ाना आप उसी निर्धारित समय पर योग करें। सुबह खाली पेट या शाम को खाने से पहले योग किया जा सकता है लेकिन योग करने के लिए सबसे अच्छा समय सुबह का होता है जब माहौल एकदम शांत होता है और इस समय आपका मन भी स्थिर और शांत रहता है।

दूसरा नियम- दिशा का विशेष महत्व होता है – अगर आप सुबह के समय योग कर रहे हैं तो योग करते समय अपना चेहरा पूर्व या उत्तर दिशा में रखिये और शाम के समय योग करते समय चेहरे को पश्चिम या दक्षिण दिशा की ओर रखना चाहिए।

तीसरा नियम- सही जगह का चुनाव करें – योग करते समय आपका स्थान साफ-सुथरा होने के साथ शांत भी होना चाहिए और वहां योग करने के लिए पर्याप्त स्थान होना चाहिए। हमेशा साफ, हवादार और शांत स्थान का ही चुनाव करें ताकि आपको योग का पूरा फायदा मिल सके।

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

चौथा नियम- सही कपड़ों का चयन करें – योग करने के लिए आपके कपड़े टाइट नहीं होने चाहिए बल्कि ढ़ीले और आरामदायक होने चाहिए ताकि आप आसानी से और सही तरीके से योग कर सके।

पांचवां नियम- खाली पेट रहते हुए ही योग करें – योग करने के दौरान आपका पेट खाली होना चाहिए, तभी आप सही तरीके से योग कर सकेंगे वरना आपके शरीर को काफी नुकसान पहुँच सकता है इसलिए सुबह खाली पेट योग करें और अगर उस समय आप योग ना कर सकें तो खाना खाने के 2-3 घंटे बाद योग कर लें क्योंकि तब तक आपका खाया हुआ खाना पच जाएगा।

छठा नियम- श्वास का ध्यान रखें – योग के दौरान श्वास का विशेष ध्यान रखा जाना जरुरी है क्योंकि श्वास की प्रक्रिया को नियंत्रित किये बिना योग पूरा नहीं हो सकता। योग के दौरान नाक से ही सांस लें और अपनी साँसों की लय और गति पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करें।

सातवां नियम- मन को शांत बनाये रखें – योग करने के दौरान ये आवश्यक है कि आप मन को स्थिर और शांत बनाये रखें। इसके लिए आपको योग के दौरान ज़्यादा बातचीत नहीं करनी चाहिए और मोबाइल फोन से भी दूरी बनाकर रखनी चाहिए ताकि आपका मन इधर-उधर ना भटके और आप पूरी एकाग्रता योग करने में लगा सकें।

आठवां नियम- संयम रखना ज़रूरी है – योग हमें संयम रखना सिखाता है लेकिन योग के दौरान भी संयम बरतना ज़रूरी होता है तभी इसके बेहतरीन परिणाम प्राप्त हो पाते हैं। अपनी क्षमता के अनुसार धीरे-धीरे योग करना चाहिए, ना कि जल्दबाज़ी में शरीर में खिंचाव और तनाव बढ़ाना चाहिए।

नवां नियम- महिलाओं के लिए – महिलाओं को पीरियड्स के दौरान कठिन आसन नहीं करने चाहिए बल्कि सरल प्राणायाम ही करना चाहिए।

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

नियम भले ही किसी भी विधा से सम्बंधित क्यों ना हो, उनका उद्देश्य यही होता है कि हमें उस विधा की बारीकियों और सावधानियों से अवगत कराये ताकि उस विधा को समझना और उससे ज़्यादा से ज़्यादा लाभ प्राप्त करना हमारे लिए आसान हो जाये और अब आप जान चुके हैं कि योग से सम्बंधित आवश्यक नियम क्या हैं।

तो बस, देर किस बात की! योग के इन नियमों को अपना लीजिये और सही तरीके से योग करके अपने तन मन को चुस्त-दुरुस्त और आनंदित बना लीजिये।

उम्मीद है जागरूक पर योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

202,339फैंसलाइक करें
4,238फॉलोवरफॉलो करें
496,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest posts.

Latest Posts

योग करने के 9 सबसे जरुरी नियम

यीशु मसीह कौन है?

आइये जानते हैं यीशु मसीह कौन है। यीशु मसीह या जीसस क्राइस्ट ईसाई धर्म के प्रवर्तक हैं जिन्हें ईसाई धर्म के लोग परमपिता परमेश्वर...